सपा के घमासान पर बोले अमर सिंह- दोषी हूं तो मुझे हटा दो लेकिन खलनायक मत बनाओ

समाजवादी पार्टी में शिवपाल सिंह यादव और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के बीच जारी तकरार के लिए अमर सिंह को ही जिम्मेदार ठहराया जा रहा है। अखिलेश यादव अमर सिंह की सपा में वापसी के खिलाफ थे।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी में छिड़े घमासान पर अमर सिंह ने निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि कुछ लोग उनको पार्टी में चल रहे घटनाक्रम का जिम्मेदार ठहरा रहे हैं और उनके नाम पर गंदे पोस्टर लगाए जा रहे हैं, पुतले जलाए जा रहे हैं लेकिन उनका इस पूरे घमासान से कोई लेना देना नहीं है। अमर सिंह ने कहा कि यादव परिवार में जो कुछ चल रहा है उसमें उनका कोई रोल नहीं है। उन्होंने कहा, 'मुझे जीने दें। मैं बलिदान देने को तैयार हूं।'

सपा के घमासान पर बोले अमर सिंह- मुझे जीने दो, खलनायक मत बनाओ

'अगर दोषी हूं तो साफ-साफ कह दें'
अमर सिंह ने कहा, 'मुझे जीने दें। अगर मैं इसका कारण बताया जा रहा हूं तो वो (मुलायम) मेरा बलिदान कर दें। मुझे छुट्टी दें। मुझे माफ करें। अनावश्यक रूप से मुझे कलह का कारण बता के मुझे खलनायक बनाने की कोशिश से मुझे बचाएं।' उन्होंने कहा कि अगर सच में उनके जैसे अनुभवी नेताओं को उन्होंने बरगलाया है तो वो छुपाएं नहीं, परिवार के सदस्यों को बता दें। अगर ऐसा है तो साफ-साफ कह दें कि अमर सिंह ने भड़काया है। अगर ऐसा नहीं है तो स्पष्ट कर दें।

पढ़ें: लीक हुए ईमेल से खुलासा- प्लानिंग के तहत मचा है सपा में बवाल?

'लोग मुझे ज्यादा ताकतवर मानते हैं'
राज्यसभा सांसद ने शायराना अंदाज में कहा, 'मुझे कुछ नहीं चाहिए। मुझे मेरे हाल पर छोड़ दो। मेरा दिल अगर कोई दिल नहीं उसे मेरे सामने तोड़ दो।' उन्होंने आगे कहा, 'दर-दर की ठोकरों मुझे इतना बता दो मेरा कसूर क्या है, मुझे जीने दो।' लंदन में बैठे अमर सिंह ने कहा, 'कुछ लोग मुझे इतना ताकतवर मानते हैं कि मैं दुनिया के किसी कोने में रहूं बहुत बड़े शासन में उथल-पुथल करा सकता हूं।

पढ़ें: मुलायम और अखिलेश में से कौन है बेहतर, इन चार प्वाइंट में जानिए

अमर की वापसी के खिलाफ थे अखिलेश
बता दें कि समाजवादी पार्टी में शिवपाल सिंह यादव और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के बीच जारी तकरार के लिए अमर सिंह को ही जिम्मेदार ठहराया जा रहा है। अखिलेश यादव अमर सिंह की सपा में वापसी के खिलाफ थे और कई बार वह इस बारे में प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष रूप से भी जता चुके हैं। वहीं, अमर सिंह और मुलायम सिंह यादव की दोस्ती पुरानी रही है। उनकी पार्टी में वापसी में शिवपाल यादव की भूमिका अहम रही है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
People are blaming but feud in Samajwadi party is not because of me says Amar Singh.
Please Wait while comments are loading...