पटना-इंदौर एक्सप्रेस ट्रेन हादसा: एक बच्ची के हो गए दो हिस्से-चश्मदीद

पटना-इंदौर एक्सप्रेस ट्रेन हादसे में मरने वालों की संख्या 91 हुुई और सैकड़ों लोग अभी भी गंंभीर रूप से घायल हैं।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। पटना-इंदौर एक्सप्रेस ट्रेन में अब तक 91 लोगों के मारे जाने की खबर है, काफी लोग गंभीर रूप से घायल हैं तो वहीं जो लोग बच गए हैं वो ऊपर वाले का शुक्रिया अदा करते थक नहीं रहे हैं।

पटना-इंदौर एक्सप्रेस हादसा: चारों तरफ था मौत का मंजर, देखें तस्‍वीरें

 Patna-Indore express derails: its horrible says eye witness

चश्मदीदों ने जो मंजर बयां किया है उसे सुनकर रोंगटे खड़े हो जाते हैं। ऐसी ही एक कहानी दो साल की मासूम बच्ची गुड़िया की है जो कि अपने मां-बाप के साथ उज्जैन जा रही थी। रास्ते भर उस मासूम बच्ची की मोहक अठखेलियों ने डिब्बे में बैठे सारे यात्रियों का मन मोह लिया था लेकिन उस मासूम को क्या खबर थी कि ये सफर ही उसकी जिंदगी का अंतिम सफर बन जाएगा।

इस हादसे की शिकार बच्ची आज दो टुकड़ों में बंट गई है और उसके शरीर की हालत आज एकदम भयावह हो चुकी है। चश्मदीद ने कहा कि मौत का ऐसा मंजर उसने इससे पहले कभी नहीं देखा था और वो ऊपर वाले से यही दुआ करता है कि ऐसी चीज किसी को भी देखनी ना पड़े।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
In Uttar Pradesh at least 90 people have been dead and several others injured when 14 coaches of Patna Indore express derailed near Pukhrayan district in Kanpur.
Please Wait while comments are loading...