पर्रिकर बोले- भारत युद्ध नहीं चाहता, लेकिन उकसाया तो आंखें निकालकर हाथ में रख देंगे

'हम लड़ने के लिए बेचैन नहीं रहते हैं, लेकिन अगर कोई हमारे देश पर बुरी नजर डालता है तो हमारी इतनी ताकत है कि हम उसकी आंखें निकाल कर उसके हाथ में रख देंगे।'

Subscribe to Oneindia Hindi

पणजी। रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने शनिवार को गोवा के एल्डोना विधानसभा क्षेत्र में एक रैली को संबोधित किया। उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ सख्त रुख अपनाते हुए कहा कि भारत युद्ध नहीं चाहता है, लेकिन अगर उकसाया तो दुश्मन की आंखें निकाल कर उसके हाथ में रख देंगे।

parrikar

रक्षा मंत्री बोले, नोटबंदी से मुंबई में कम हो गए हैं अपराध

उन्होंने कहा- हम लड़ने के लिए बेचैन नहीं रहते हैं, लेकिन अगर कोई हमारे देश पर बुरी नजर डालता है तो हमारी इतनी ताकत है कि हम उसकी आंखें निकाल कर उसके हाथ में रख देंगे।

गोवा के लोगों का उत्साह बढ़ाते हुए उन्होंने कहा कि गोवा के लोग इस दुनिया को बता सकते हैं कि उन्होंने एक ऐसे इंसान को केन्द्र में भेजा है, जिसने दुश्मन को एक जोरदार तमाचा मारा है।

कभी भारत से भी बड़ा खतरा करार दिए गए बाजवा अब पाक आर्मी चीफ

तीन दिन से सीमा पर नहीं हुई फायरिंग

तीन दिन पहले पाकिस्तान की ओर से डीजीएमओ स्तर की वार्ता की ओर इशारा करते हुए उन्होंने कहा- सीमा पर पिछले तीन दिन से कोई फायरिंग नहीं हुई है।

आपको बता दें कि तीन दिन पहले भारत की ओर से जवाबी कार्रवाई के तहत की गई जबरदस्त गोलीबारी के बाद पाकिस्तान के डीजीएमओ ने भारत के डीजीएमओ से हॉटलाइन पर बात की थी और गोलीबारी रोकने की गुजारिश की थी, जिसके बाद से सीमा पर कोई फायरिंग नहीं हुई है।

भारत को धमकी देने से पहले इन तीन लड़ाइयों को याद रखे पाकिस्तान

वे बोले कि अगर पाकिस्तान एक बार फायरिंगग करेगा तो हम उन पर दो बार फायरिंग करेंगे। हमारी सेना जैसे को तैसा अंदाज में जवाब दे रही है, जब उन्हें यह बात समझ आ गई है तो उनकी तरफ से फायरिंग रोक दी गई है।

रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा कि हमारी सेना पूरी तरह से तैयार है। सेना के साहस की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि उनकी मां ने उन्हें सिखाया है कि अगर तुम खरगोश के शिकार के लिए भी जाते हो तो किसी बाघ को भी मारने के लिए तैयार रहो।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
parrikar said India would gouge out the eyes of enemy if provoked
Please Wait while comments are loading...