स्ट्राइक पर आया एक और सबूत, POK पुलिस के SP ने कहा- सैनिक अनजाने में पकड़े गए

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। भारतीय सेना की ओर से पाक अधिकृत कश्मीर में किए गए सर्जिकल स्ट्राइक के राज धीरे-धीरे पाक से बाहर आ रहे हैं।

indian army

एक टीवी रिपोर्ट के हवाले से आई खबर के अनुसार पाकिस्तान पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी ने अपने वरिष्ठ से एक बातचीत में कहा है कि लाइन ऑफ कंट्रोल के पार किए गए सर्जिकल स्ट्राइक से लोग हताहत हुए हैं।

सीएनएन न्यूज 18 की एक रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तानी पुलिस अधिकारी सर्जिकल स्ट्राइक की रात हुई घटनाओं से परेशान था और उन दावों की पुष्टि की जो भारतीय सेना द्वारा स्ट्राइक संबंध में गई थी।

सर, उस रात आप कह सकते हैं कि लगभग 3-4 घंटे, सुबह 2 से 4 या 5 बजे तक हमला जारी था। यह बात सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस (स्पेशल ब्रांच) गुलाम अकबर ने कही है। उनकी यह बात एक ऑडियो रिकॉर्डिंग में सुनी जा सकती है।

गुलाम अकबर जो पाक अधिकृत कश्मीर के मीरपुर रेंज के एसपी हैं, उन्होंने इस बात की पुष्टि की है कि 29 सितंबर के तड़के सर्जिकल स्ट्राइक हुई थी।

अकबर ने साफ साफ कहा है कि पाकिस्तानी सेना भी अनजाने में पकड़ में आ गई और करीब पांच जवानों की जान गई लेकिन उनके नाम टीवी चैनलों पर टेलीकास्ट नहीं किए गए। साथ ही आतंकियों की अज्ञात संख्या में शवों को पाक सेना ने तुरंत हटा दिया।

अकबर ने भींभेर के समाना, पुंछ के हजीरा, नीलम के दुधनियाल और हथियन बाला स्थित कायानी के हालातों का जिक्र किया जिसे वे व्यक्तिगत रूप से जानते थे और वहां हमला हुआ था।

अकबर ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक के बाद पाक सेना ने उन इलाकों की घेराबंदी कर ली थी। एसपी ने यह भी कहा कि पाक सेना ने शवों को एंबुलेंस में रखकर, उन्हें घटना स्थल से दूर ले जाया गया। अकबर ने यह भी बताया कि कईयों की अंत्येष्टि गांवों में हुई और उनके जवान शवों का अंदाजा लगा रहे थे।

अकबर ने कुछ ऐसे तथ्य भी रखें हैं जो पाक की पोल खोल सकते हैं। रिपोर्ट के अनुसार अकबर ने बताया कि पाकिस्तानी सेना आतंकियों को सीमा पार भारत में जाने के लिए सुविधा मुहैया कराती है।

उन्हें सेना लाती है और यह उनके हाथ में है। उन्होंने कहा कि हम उनकी वास्तविक संख्या नहीं बता सकते क्योंकि पाक सेना उन्हें संरक्षित करती है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Pakistan police's officer confirmed facts about surgical strike.
Please Wait while comments are loading...