पाकिस्‍तान के DGMO को भारत का साफ संदेश, हम जवाब देने का अधिकार रखते हैं

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। सोमवार को जम्‍मू कश्‍मीर में पाकिस्‍तान की ओर से जारी युद्धविराम के बीच ही भारत और पाकिस्‍तान के बीच डीजीएमओ स्‍तर की वार्ता हुई। पाकिस्‍तान ने बातचीत के दौरान दावा किया कि भारत की ओर से पाकिस्‍तान की सेना को निशाना बनाया जा रहा है। इसकी वजह से पीओके के एतेहकाम सेक्‍टर में चार पाक सैनिकों और और एक नागरिक की मौत हो गई है। यह सेक्‍टर कुपवाड़ा के केरन सेक्‍टर के सामने है।

युद्धविराम के दोषी पाक ने डीजीएमओ स्‍तर की वार्ता में भारत को बताया चार सैनिकों की हत्‍या का दोषी

भारत को है प्रतिक्रिया का अधिकारी

पाकिस्‍तान को जवाब देते हुए भारत के डीजीएमओ ने कहा कि पाकिस्‍तान की सेना की ओर से लगातार युद्धविराम तोड़ा जा रहा है। भारतीय सेना सिर्फ इसका जवाब दे रही है। इसके अलावा उन्‍होंने कहा कि भारतीय सेना की ओर से हथियारों से लैस घुसपैठिए को घुसपैठ से रोकने के लिए फायरिंग की गई। ये घुसपैठिए एलओसी के जरिए पाकिस्‍तानी पोस्‍ट्स के एकदम करीब थे। डीजीएमओ ने यह भी साफ कर दिया कि भारतीय सेना के पास युद्धविराम तोड़े जाने की किसी भी घटना के बाद सही तरह से प्रतिक्रिया देने का बराबद हक है। लेकिन सेना की ओर से एलओसी पर शांति और स्थिरता बरकरार रखने की पूरी कोशिशें हो रही हैं और सेना इसे लेकर काफी गंभीर भी है।

लगातार जारी है फायरिंग

पाकिस्‍तान की ओर से सोमवार को राजौरी के मंजकोट में लगातार फायरिंग जारी है। शनिवार को भी यहीं पर पाकिस्‍तान की ओर से फायरिंग हुई थी। सोमवार को हुए युद्धविराम उल्‍लंघन में दो नागरिकों समेत सेना में नायक मुद्दस्‍सर अहमद शहीद हो गए हैं। नायक मुद्दस्‍सर अहमद दक्षिण कश्‍मीर के त्राल के रहने वाले थे। वह त्राल के गांव दूछू गांव के निवासी थे। 37 वर्ष के नायक अहमद ने अस्‍पताल ले जाते समय रास्‍ते में ही दम तोड़ दिया। शनिवार को पाकिस्‍तान ने जो युद्धविराम उल्‍लंघन किया था उसमें लांस नायक मोहम्‍मद नसीर शहीद हो गए थे। पाक की फायरिंग में एक आठ वर्ष की बच्‍ची की नाम साजिद कौसर की भी मौत हो गई है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Pakistan DGMO raised the issues of targeting of Pak Army troops which resulted in the death of four Pakistani soldiers and one civilian in Athmuqam Sector of PoK.
Please Wait while comments are loading...