गांव हो रहे हैं जगमग, 3 साल में 5 गुना हुआ गांवों का बिजलीकरण

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। केंद्र सरकार गांवो के बिजलीकरण का काम तेजी से कर रही है। यूपी में में अब सिर्फ छह गांव ऐसे हैं, जिन तक बिजली नहीं पहुंच पाई है, जबकि कुछ समय पहले तक यह संख्या 1500 से भी ज्यादा थी। इसके अलावा त्रिपुरा और हिमाचल प्रदेश ऐसे राज्य हैं ,जहां पूरी तरह से विद्युतीकरण हो चुका है। इन दोनों राज्यों में अब सभी गांव रोशन हैं।

'गर्व' नाम से मोबाइल एप लांच

'गर्व' नाम से मोबाइल एप लांच

केंद्रीय ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को दिल्ली में दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना का 'गर्व' नाम से मोबाइल एप लांच किया। इस दौरान उन्होंने 12 राज्यों की राजधानी के मीडियाकर्मियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बिजली समस्याओं का फीडबैक लिया। उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत सात सौ दिनों में देश के 13 हजार गावों में बिजली पहुंचाई गई। अगले 300 दिनों में हर गांव में बिजली तथा 2022 तक हर घर को रोशन करने का लक्ष्य लेकर कार्य किया जा रहा है। गोयल ने कहा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 25 जुलाई, 2015 को दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना का शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होंने 1000 दिनों में देश के 18,500 गावों के विद्युतीकरण का लक्ष्य तय किया था। इसके तहत 700 दिनों में 13 हजार से अधिक गांवों में बिजली पहुंचाई जा चुकी है। अब 300 दिनों में यानी एक मई, 2018 तक 4000 गांवों में बिजली पहुंचाने का लक्ष्य है।"

मांग से अधिक है बिजली का उत्पादन

मांग से अधिक है बिजली का उत्पादन

ऊर्जा मंत्री ने बताया कि हमारे पास बिजली का उत्पादन मांग से अधिक है। सोलर प्लांट को भी बढ़ावा दिया जा रहा है। पहाड़ पर सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए लोगों को एलईडी बल्ब, पंखा तथा टीवी भी दिया जा रहा है। किसानों को पर्याप्त मात्रा में सस्ती बिजली देने का प्रयास किया जा रहा है। सासंद आदर्श ग्राम योजना के तहत गांव के सभी घरों में बिजली पहुंचाई जा रही है। असम, बिहार, ओडिशा, मध्य प्रदेश व झारखंड ग्रामीण बिजली क्षेत्र में बेहतर काम कर रहे हैं।

नासा द्वारा जारी तस्वीर शेयर की

नासा द्वारा जारी तस्वीर शेयर की

नासा ने एक तस्वीर जारी की है। जिसमें रात के वक्त भारत चमकता हुआ दिखाई दे रहा है। जबकि बाकी दुनिया में अंधेरा छाया हुआ है। इस तस्वीर को केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने दिखाया और बताया कि पूरे देश में कुछ ही गांव ऐसे हैं, जहां बिजली नहीं पहुंच पा रही है सरकार के इस तस्वीर के साथ-साथ देश के ग्रामीण इलाकों में बिजली की हालत पर भी रिपोर्ट पेश की। सरकार के मुताबिक त्रिपुरा और हिमाचल प्रदेश ऐसे राज्य हैं, जिनमें 100 फीसदी गांवों में बिजली पहुंचाई जा चुकी है। इसके साथ ही एक और अच्छी खबर सरकार ने दी है कि उत्तर प्रदेश में सिर्फ 6 गांव ऐसे हैं, जहां बिजली नहीं है, बाकी सभी गांवों में बिजली पहुंच गई है। जबकि बिहार के 319 गांवों में बिजली पहुंचाना बाकी है।

बिजली प्रोजेक्टस की स्टेटस रिपोर्ट

बिजली प्रोजेक्टस की स्टेटस रिपोर्ट

सरकार की रिपोर्ट के मुताबिक सबसे खराब हालत अरुणाचल प्रदेश की है, जहां 1224 गांवों में बिजली पहुंचाना बाकी ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल की यह रिपोर्ट 18 मई 2017 तक की बिजली प्रोजेक्ट्स की स्टेट्स रिपोर्ट के मुताबिक है। रिपोर्ट के मुताबिक देश में चार राज्य ऐसे हैं, जहां 10 से कम गांवों में बिजली पहुंचाना बाकी है। राजस्थान में से सिर्फ एक गांव में बिजली पहुंचाना बाकी है। मिज़ोरम में 18, कर्नाटक में 25 मध्य प्रदेश में 52, उत्तराखंड में 53 और मणिपुर में 66 गांवों में बिजली पहुंचाना बाकी है।

 

 

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Our villages are lighting, piyush goyal launched garv mobile app
Please Wait while comments are loading...