कश्मीर का वो इलाका जहां सेना का काम आसान बना रही है 'जादू की झप्पी'

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। कश्मीर हिंसा के बाद शांति बहाली के लिए चलाए जा रहे सेना के ऑपरेशन 'काम डाउन' (Calm Down) की तर्ज पर दक्षिण कश्मीर में 'जादू की झप्पी' कैंपेन चल रहा है। इस मुहिम का फायदा सेना और स्थानीय लोगों को भी मिल रहा है।

kashmir

पढ़ें: देश के खिलाफ ट्वीट करके घिरे केजरीवाल, ट्विटर पर उड़ा मजाक

जम्मू-कश्मीर के बेहद संवेदनशील अनंतनाग जिले में सुबह होते ही कर्नल धर्मेंद्र यादव अपनी जीप लेकर निकलते हैं और पूरे एरिया में स्थानीय लोगों से मुलाकात करते हैं, उनसे बातचीत करते हैं। खासकर बच्चों से वह जरूर मिलते हैं।

पढ़ें: सहारा प्रमुख को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत, फिर बढ़ी पैरोल

टीचर ने की कर्नल की तारीफ
गुलाम मोहिउद्दीन नाम के टीचर ने कहा, 'कर्नल यादव और उनकी टीम गांव के लोगों और बच्चों से मिलती है। उन्होंने अपने प्रयासों से जिले के कई इलाकों में शांति कायम की है।' उन्होंने बताया कि सेना ने ही उन्हें बच्चों को पढ़ाने के लिए प्रेरित किया है, ताकि किसी भी हाल में उनकी शिक्षा प्रभावित न हो।

पढ़ें: अंतिम संस्कार के एक दिन बाद जिंदा घर लौटा शख्स, सब रह गए दंग

एक अन्य शख्स ने बताया कि कर्नल यादव हमेशा गांव वालों से बेहद खुले मिजाज से मिलते हैं और गले लगाते हैं। वह इसे जादू की झप्पी का नाम भी देते हैं।

फिल्मी अंदाज में लोगों के दिल में जगह बनाने की कोशिश
कर्नल धर्मेंद्र यादव ने कहा, 'ऐसे टर्म हमें पब्लिक से जोड़ने के लिए काफी मददगार होते हैं। मैंने काफी पहले मुन्नाभाई एमबीबीएस देखी थी। उसका ये फार्मूला काफी हिट था।'

पढ़ें: एक साथ गिरफ्तार हुए 16 तांत्रिक, सामने आए अश्लील हरकतों के वीडियो

बुरहान वानी को मारने वाली टीम में शामिल थे कर्नल
कर्नल यादव, सेना के उन युवा अधिकारियों की टीम का हिस्सा थे, जिसने जुलाई में हिजबुल कमांडर बुरहान वानी और उसके दो साथियों को मुठभेड़ में मार गिराया था। हालांकि उन्होंने एनकाउंटर से जुड़ी कोई भी जानकारी देने से इनकार कर दिया और कहा कि यह उनकी ड्यूटी का हिस्सा था और ऑपरेशनल डीटेल ऐसे साझा नहीं की जा सकतीं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
operation calm down linked with jadoo ki jhappi in south kashmir for peace
Please Wait while comments are loading...