भारत को नुकसान पहुंचाने के लिए पाकिस्तान की इस चाल से आईबी ने किया सावधान

भारत को नुकसान पहुंचाने के लिए पाकिस्तान, देश की तेल पाइपलाइन्स को निशाना बनाने की तैयारी में है।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। भारत के सर्जिकल स्ट्राइक का बदला लेने के लिए पाकिस्तान नई-नई चालें चल रहा है। भारत को नुकसान पहुंचाने के लिए अब वह तेल पाइपलाइन्स को निशाना बनाने की तैयारी में है। खुफिया एजेंसियों ने इस बारे में सावधान किया है।

Read Also: पाकिस्तान में चर्चा में है एक चायवाला, पूरे मुल्क की कुड़ियां फिदा

oil pipeline

पाकिस्तान के रडार पर तेल पाइपलाइन्स

भारत के इंटेलिजेंस ब्यूरो ने पाकिस्तानी जासूस के कॉल को इंटरसेप्ट किया है जिसके संकेत बेहद खतरनाक हैं। यह कॉल राजस्थान में तेल पाइपलाइन्स के मैनेजमेंट से जुड़े एक कर्मचारी के पास आया था। कॉल करने वाला पाक जासूस अपने आपको रॉ अधिकारी बताकर कर्मचारी से संवेदनशील सूचनाएं ले रहा था।

आईबी ने सरकार को चेताया

आईबी ने तेल मंत्रालय को इस मामले पर सावधान किया है। आईबी ने तेल पाइपलाइन्स की सुरक्षा और पुख्ता करने की सलाह दी है। साथ ही आईबी ने कहा कि महत्वपूर्ण तेल प्रतिष्ठानों के बारे में सूचनाओं के आदान-प्रदान पर भी रोक लगानी चाहिए।

पाइपलाइन्स पर हमले से देश को होगा भारी नुकसान

आईबी का कहना है कि फर्जी नाम से कॉल करके कई पाकिस्तानी जासूस देश के तेल प्रतिष्ठानों के कर्मचारियों से संदेशनशील सूचनाएं जुटाने में लगे हैं। तेल पाइपलाइन्स को क्षति पहुंचाकर पाकिस्तान भारत की अर्थव्यवस्था पर चोट करना चाहता है। पाइपलाइन्स में विस्फोट से जान-माल के नुकसान होने के साथ-साथ उर्जा संकट की कमी हो सकती है।

तेल मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा है कि आंतिरक सुरक्षा का मामला गृह मंत्रालय का है और वह इस मामले में उचित कदम उठाएगी।

देश की बड़ी तेल कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन के प्रवक्ता ने कहा है कि कंपनी के कर्मचारियों को किसी से भी सूचना शेयर न करने के प्रति जागरूक किया गया है।

सीमा से सटे इलाकों में हैं कई तेल प्रतिष्ठान

पाकिस्तानी सीमा से सटे राजस्थान, पंजाब और गुजरात के तेल प्रतिष्ठान हमेशा से दुश्मन के निशाने पर रहे हैं। रिलायंस इडंस्ट्रीज, गुजरात के एस्सार और पंजाब में एचपीसीएल-मित्तल की तेल रिफाइनरीज को आतंकी हमले की धमकियां मिलती रही हैं।

गुजरात में ही इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन की 14 मिलियन टन की क्षमता वाली रिफाइनरी है। राजस्थान के बाड़मेर में देश के कच्चे तेल के उत्पादन का बड़ा ऑयल फील्ड है। तेल कंपनियों और उनके पाइपलाइन्स की सुरक्षा सेंट्रल इंडस्ट्रियल सिक्योरिटी फोर्स गार्ड्स (सीआईएसएफ) करते हैं।

Read Also: इंदिरा गांधी को लेकर भाजपा सरकार ने उठाया बड़ा कदम, कांग्रेस भड़की

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Pakistani spies are calling to employees of Indian Oil companies to get sensitive information about oil pipelines.
Please Wait while comments are loading...