BHIM और UPI ऐप का होगा बीमा, सरकार ने की पूरी तैयारी

नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया साइबर फ्रॉड के लिए इंश्योरेंस लेने पर विचार कर रही है। यह इंश्योरेंस कवर भीम ऐप, यूपीआई ऐप और रूपे कार्ड ऐप के लिए होगा।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। मोदी सरकार डिजिटल इंडिया मिशन के तहत कैशलेस ट्रांजैक्शन को बढ़ावा देने के लिए आए दिन कोई न कोई कदम उठा रही है। इसी मिशन के तहत मोदी सरकार एक और बड़ी तैयारी में जुटी हुई है। इस बार नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया साइबर फ्रॉड के लिए इंश्योरेंस लेने पर विचार कर रही है। यह इंश्योरेंस कवर भीम ऐप, यूपीआई ऐप और रूपे कार्ड ऐप के लिए होगा। इस कवर के बाद अगर एनपीसीआई के किसी प्रोडक्ट के जरिए किसी भी यूजर के साथ कोई फ्रॉड होता है तो उसे इंश्योरेंस कवर का पूरा फायदा मिलेगा।

insurance BHIM और UPI ऐप का होगा बीमा, सरकार ने की पूरी तैयारी
ये भी पढ़ें-नोटबंदी के दौरान सबसे अधिक पैसा जमा करने वाली पार्टी बनी बसपा

नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया के सूत्रों की मानें तो एंश्योरेंस कवर लेने के लिए जनरल इंश्योरेंस कंपनियों के लिए बिड निकाली गई है। नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया इसके लिए फर्स्ट पार्टी और थर्ड पार्टी के साइबर फ्रॉड कवर लेने की योजना बना रही है। जब नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया यह इंश्योरेंस कवर ले लेगा तो फिर अपने किसी भी यूजर के साथ हुई किसी भी तरह के साइबर फ्रॉड से उसे सुरक्षा मिलेगी और वह इंश्योरेंस कवर का फायदा उठा सकेगा। ये भी पढ़ें-आचार संहिता के उल्लंघन में सपा विधायक समेत 106 पर मुकदमा

जल्द ही नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) भारत बिल पेमेंट सर्विसेज रूपे कार्ड लॉन्च करने वाला है, इसी के चलते NPCI ने यह फैसला किया है कि वह साइबर फ्रॉड कवर लेगा ताकि यूजर्स को किसी भी तरह की कोई परेशानी न हो। साथ ही NPCI यह भी सुनिश्चित करना चाहता है कि अगर किसी ग्राहक को उसके किसी प्रोडक्ट को इस्तेमाल करते समय कोई नुकसान हो जाता है तो उसे इंश्योरेंस कवर मिल सके। ये भी पढ़ें-नोटबंदी के बाद 20 हजार का नगद गिफ्ट या चंदा लेने वालों को आयकर विभाग को देनी होगी जानकारी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
NPCI request for proposal for cyber risk insurance
Please Wait while comments are loading...