अब लाइसेंस साथ रखने की जरूरत नहीं, 'डिजिलॉकर' से चलेगा काम

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। अक्सर भारी बारिश या ट्रैफिक की झंझटों के कारण लोगों को अपने लाइसेंस और गाड़ी के पेपर्स की हिफाजत करने में काफी मशक्कत झेलनी पड़ती है लेकिन अब उनको इन सारी बातों से निजात मिल सकती है क्योंकि रोड ट्रांसपोर्ट मिनिस्ट्री की ओर से बड़ी राहत की खबर आई है।

वनइंडिया एक्सक्लूसिव: जियो से जुड़ी अनसुनी बातें

क्योंकि अब चीजें हार्ड कॉपी से नहीं बल्कि सॉफ्ट कॉपी से चलेंगी यानी कि 'डिजिलॉकर' से। उम्मीद जताई जा रही है कि दिल्ली में बुधवार को ये सेवा लांच हो जायेगी।

डिजिटल लॉकर: हर काम होगा आसान

क्या होगा तरीका

इस नियम के तहत ड्राइवर को वाहन चलाते समय लाइसेंस की हार्ड कॉपी साथ रखने की जरूरत नहींं पड़ेगी और पुलिस द्वारा की जाने वाली वैरिफिकेशन के समय ड्राइवर अपने लाइसेंस, इंश्योरेंस आदि कागजों की सॉफ्ट कॉपी दिखा पायेंगे। अधिकारियों के पास ऑनलाइन चैकिंग के लिए एक डिवाइस होगा, जिससे वे मौके पर ही जरूरी कागजों की वैद्यता जांच सकेंगे।

Exclusive: जियो से कॉल करना होगा मुश्किल जानिये क्‍यों?

'डिजिलॉकर' से फायदा

इस सर्विस से सबसे बड़ा फायदा है कि अब इंसान को बहुत सारे कागजों के साथ यात्रा नहीं करनी पडे़गी। ट्रांसपोर्ट मिनिस्ट्री जल्द ही इसके लिए एप्प भी लांच करने वाली है।

'डिजिटल लॉकर'

दरअसल डिजिटल लॉकर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया प्रोग्राम का महत्वपूर्ण हिस्सा है। इस वेब सेवा के जरिये आप जन्म प्रमाण पत्र, पासपोर्ट, शैक्षणिक प्रमाण पत्र जैसे अहम दस्तावेजों को ऑनलाइन स्टोर कर सकते हैं। यह सुविधा पाने के लिए बस आपके पास आधार कार्ड होना चाहिए। आधार का नंबर फीड कर आप डिजीटल लॉकर अकाउंट खोल सकते हैं।

Positive India: इंडिया को तरक्की के लिए चाहिए High-way भी I-way भी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
You will soon be able to drive without having to carry your driving licence and registration certificate (RC) of the vehicle by keeping them in 'DigiLocker'. These documents kept in the secured national digital locker system can be verified by traffic police.
Please Wait while comments are loading...