500-1000 के नोट बैन करने पर मोदी को मिला नीतीश का साथ

नीतीश कुमार ने कहा है कि हम मोदी सरकार के 500 और 1000 रुपए के नोट बंद करने के फैसले की सराहना करते हैं।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। काले धन पर लगाम कसने और भ्रष्टाचार रोकने के लिए 500 और 1000 रुपए के नोट बंद करने के मोदी सरकार के फैसले को लेकर सियासी सरगर्मियां भी तेज हैं।

nitish kumar

जहां कांग्रेस और टीएमसी खुलकर मोदी सरकार के फैसले पर विरोध जता रहे हैं, वहीं सियासी मंच पर मोदी से असहमति रखने वाले बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस फैसले को लेकर प्रधानमंत्री की तारीफ की है।

नीतीश कुमार ने कहा है, 'हम मोदी सरकार के 500 और 1000 रुपए के नोट बंद करने के फैसले की सराहना करते हैं।

500-1000 के नोट बंदः इन सवालों का जवाब दो...मोदी जी

उन्होंने कहा कि मारी सरकार कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ सरकार के साथ है।'

नीतीश ने सरकार के फैसले का साथ देते हुए कहा कि इससे शुरुआत में लोगों को थोड़ी परेशानी जरूर होगी, लेकिन भविष्य में इससे भारत की अर्थव्यवस्था को काफी लाभ मिलेगा।

गौरतलब है कि काला धन खत्म करने को लेकर मोदी सरकार की ओर से 500 और 1000 के नोट बंद किए जाने और नए नोट जारी करने के फैसले को विपक्ष ने आर्थिक सर्जिकल स्ट्राइक करार दिया है।

500-1000 के नोट पर मोदी सरकार के फैसले को इन पांच नेताओं ने कोसा

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने मोदी सरकार के इस फैसले को आर्थिक सर्जिकल स्ट्राइक करार देते हुए कहा कि यह देश हित में सही साबित नहीं होगी। उन्होंने कहा कि इससे आर्थिक संकट आने वाला है।

कांग्रेस नेता ने कहा कि पहले टैक्स अधिकारियों ने व्यापारियों को मारा, अब 500 और 1000 के जमा नोट उनकी मुसीबत बनेंगे।

आखिर कैसा है 500 और 2000 रुपये का नया नोट, देखिए यहां

उन्होंने ट्विटर पर लिखा, 'नगदी में केवल छोटा और मध्यम व्यापारी ही धंधा करता है। बड़े तो चेक और प्लास्टिक मनी से करते हैं। अब पोस्ट ऑफिस और बैंक अधिकारियों की चांदी।'

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
bihar cm nitish kumar said that we appreciate the initiative taken by modi govt for scrapping the currency notes of Rs 1000 and 500.
Please Wait while comments are loading...