नोटबंदी पर क्या बोले राष्ट्रपति, नीतीश-मोदी ने की एक-दूसरे की तारीफ, पढ़िए, 05 जनवरी की बड़ी खबरें

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। यूपी में चुनाव तारीखों के ऐलान के बीच समाजवादी पार्टी में जारी घमासान रोकने की कोशिशें की जा रही हैं। अखिलेश यादव के समर्थन में 200 से ज्यादा विधायकों ने एफिडेविट पर हस्ताक्षर किए हैं। नोटबंदी पर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने कहा कि इससे कालेधन और भ्रष्टाचार को खत्म करने में मदद मिलेगी। बिहार की राजधानी पटना से ऐसी तस्वीर सामने आई जिससे दिल्ली का सियासी माहौल भी गरमा गया। पटना में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने एक-दूसरे की जमकर तारीफ की। आखिर किस मुद्दे पर उन्होंने ये तारीफ की, पढ़िए आगे...

पढ़िए, दिनभर की बड़ी खबरें

नोटबंदी के जरिए कालेधन से लड़ने में मिलेगी मदद: राष्ट्रपति

नोटबंदी के जरिए कालेधन से लड़ने में मिलेगी मदद: राष्ट्रपति

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने नोटबंदी के फैसले पर कहा कि इससे कालेधन और भ्रष्टाचार को खत्म करने में मदद मिलेगी। देशभर में राज्‍यपालों और उप-राज्‍यपालों को नए साल का शुभकामना संदेश देते हुए राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने ये बातें कही। प्रणब मुखर्जी ने कहा कि नोटबंदी के फैसले से अस्‍थायी तौर पर अर्थव्‍यवस्‍था में स्‍लोडाउन आ सकता है। उन्‍होंने कहा कि ऐसे मौके पर इस बात का ज्‍यादा ध्‍यान रखना होगा कि गरीबों को कोई कष्‍ट न हो। गरीबों को ऐसे मौके पर सबसे जल्‍दी मदद पहुंचानी होगी। उन्‍होंने कहा कि देश में चुनावों को स्‍वतंत्र और सही तरीके से कराने से पूरी दुनिया में हमारे देश को लोकतंत्र उभर कर सामने आता है। चुनाव इस देश के लोगों की संप्रभुत्‍ता का प्रतीक है और लोगों की तरफ से सरकार को दी गई एक अथॉरिटी है।

पटना में नीतीश कुमार और पीएम मोदी ने की एक-दूसरे की तारीफ

पटना में नीतीश कुमार और पीएम मोदी ने की एक-दूसरे की तारीफ

बिहार की राजधानी में पटना के गांधी मैदान में सिखों के धर्मगुरु गुरु गोविंद सिंह जी के 350वें प्रकाश पर्व पर का आयोजन किया जा रहा है। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शामिल होने के लिए पहुंचे। इस दौरान नीतीश कुमार ने अपने संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की तारीफ करने से नहीं चूके। शराबबंदी के फैसले का जिक्र करते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री, प्रधानमंत्री का पदभार ग्रहण करने से पहले गुजरात के मुख्यमंत्री थे। अनेकों वर्षों तक करीब 12 वर्षों तक गुजरात के मुख्यमंत्री रहे। उन्होंने भी मजबूती शराबबंदी लागू किया। दूसरी ओर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नीतीश कुमार की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने समाज सुधार को कदम उठाया है वो बहुत मुश्किल काम होता है लेकिन उन्होंने नशा मुक्ति का जो अभियान चलाया है, आने वाली पीढ़ियों को बसाने के लिए उन्होंने जो बीड़ा उठाया है, वो बेहद खास है। खुद प्रधानमंत्री मोदी ने इसके लिए उन्हें बधाई दी।

200 से ज्‍यादा विधायकों ने सीएम अखिलेश के पक्ष में एफिडेविट पर किए हस्‍ताक्षर

200 से ज्‍यादा विधायकों ने सीएम अखिलेश के पक्ष में एफिडेविट पर किए हस्‍ताक्षर

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान के साथ ही यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने रणनीति बदल दी है। भले ही समाजवादी पार्टी में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा हो बावजूद इसके अखिलेश यादव लगातार पार्टी नेताओं को एकजुट करने की कवायद में जुटे हुए हैं। समाजवादी पार्टी के सूत्रों के हवाले से खबर है कि 200 से ज्यादा विधायकों ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के पक्ष में एक एफिडेविट पर हस्ताक्षर किया है। इस हलफनामे में हस्ताक्षर से साफ है कि पार्टी के 200 से ज्यादा विधायक अखिलेश यादव के समर्थन में हैं। इससे पहले सुबह में अखिलेश यादव ने पार्टी नेताओं का साथ बैठक भी की थी। जिसमें पार्टी की भावी रणनीति को लेकर चर्चा की गई। अखिलेश यादव ने शिवपाल यादव द्वारा बर्खास्त किए गए चार जिलाध्यक्षों को वापस ले लिया है और उन्हें फिर से पार्टी में जगह दी है।

बेंगलुरु छेड़छाड़ मामले में पुलिस ने किया बड़ा खुलासा

बेंगलुरु छेड़छाड़ मामले में पुलिस ने किया बड़ा खुलासा

नए साल के जश्न की रात को बेंगलुरु में एक लड़की के साथ कुछ बाइक सवार लोगों ने अश्लील हरकत की थी, जिसके बाद पुलिस ने इस मामले में एफआईआर भी दर्ज कर ली थी। अब बेंगलुरु पुलिस ने इस मामले को लेकर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की है और कुछ नए खुलासे किए हैं। पुलिस ने बताया है कि उन्होंने इस मामले में कुल चार लड़कों को गिरफ्तार किया है, जिन्होंने लड़की के साथ छेड़छाड़ की थी। इसके अलावा पुलिस ने उस मुख्य आरोपी का नाम भी उजागर किया है, जिसने महिला के साथ अश्लील हरकत की थी। पुलिस के अनुसार अयप्पा नाम के एक डिलीवरी ब्वाय ने लड़की के साथ अश्लील हरकत की थी, जो एक आईटीआई का छात्र भी है।

चंद्रबाबू नायडू का ऐलान, नोबेल पुरस्कार जीतने वाले को देंगे 100 करोड़

चंद्रबाबू नायडू का ऐलान, नोबेल पुरस्कार जीतने वाले को देंगे 100 करोड़

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने राज्य के किसी शख्स के नोबेल पुरस्कार जीतने पर 100 करोड़ का ईनाम देने का ऐलान किया है। नायडू ने 100 करोड़ के ईनाम की ये बात तिरुपति में चल रहे इंडियन साइंस कांग्रेस के 104वें सेशन में अपने संबोधन के दौरान कही। नायडू का नोबेल पुरस्कार विजेता को नकद धनराशि देने की ये कोई पहली घोषणा नहीं है। इससे पहले अपने एक ऐलान में चंद्रबाबू नायडू ने आंध्र प्रदेश से किसी के नोबेल पुरस्कार जीतने पर 10 करोड़ रुपए देने का ऐलान किया था। इस दफा उन्होंने ईनाम की रकम को दस गुना ज्यादा कर दिया है।

'हम डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के बड़े समर्थक'

'हम डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के बड़े समर्थक'

भारत दौरे पर आए गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई आज आईआईटी खड़गपुर पहुंचे। जहां छात्रों से मुलाकात के दौरान उन्होंने डिजिटल इंडिया की कार्यक्रम की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि मैं अकसर भारत आता रहता हूं। उन्होंने कहा कि डिजिटली तौर पर जिस तरह से प्रगति हो रही है, वह बेहद खास और अद्भुत है। हमारे पास बहुत अच्छी नेतृत्व करने वाली टीम है। इसी के आधार पर सारी बाधाओं को दूर किया जा सकता है। सुंदर पिचाई ने कहा कि भारत में पूरा फोकस है। पिचाई ने कहा कि हम डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के बड़े समर्थक हैं। हम भुगतान के डिजिटाइजेशन के लिए भी काम कर रहे हैं।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
news roundup the day 05 01 2017.
Please Wait while comments are loading...