अगर मिल गई इस कानून को मंजूरी, तो कभी भी चली जाएगी नौकरी

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। कंपनियों में कर्मचारियों की नियुक्ति और छंटनी करना आसान हो सके, इसके लिए मोदी सरकार श्रम कानूनों में कुछ बड़े बदलाव करने का काम कर रही है। इसकी जानकारी श्रम मंत्रालय के ही एक अधिकारी ने दी। उन्होंने यह भी बताया कि सरकार के इस कदम से देश में लाखों नौकरियां पैदा होंगी।

job

40 साल के शहीद बेटे को 80 साल की मां ने दिया कंधा, सबने किया हौसले को सलाम

पीएम मोदी ने सुधार के एजेंडे के तहत श्रम बाजार में कई बदलाव करने थे, लेकिन अन्य विधेयकों में व्यस्त रहने के चलते इस पर काम नहीं हो सका। श्रम मंत्रालय के सचिव शंकर अग्रवाल के अनुसार अगस्त में जीएसटी पास होने के बाद सरकार को लगा कि श्रम बाजार में सुधार का यही सही समय है।

जियो के बाद अब एयरटेल ने दिया 90 दिनों तक फ्री डेटा ऑफर

शंकर अग्रवाल ने बताया कि नौकरियों के लिए नियुक्ति करने के मामले में बहुत सी कंपनियां और नियोक्ता लचीलापन चाहते हैं, जिसके चलते अब श्रम कानून में सुधार करने की जरूरत है।

BSNL के मुफ्त कॉलिंग प्लान में है भारी लोचा, आप भी जानिए

उन्होंने यह भी बताया कि औद्योगिक संबंध और मजदूरी से जुड़े दो विधेयक इसी महीने कैबिनेट के पास भेजे जाएंगे, जिन्हें मंजूरी मिल जाती है तो नवंबर से शुरू हो रहे सत्र में इन्हें सदन में पेश किया जाएगा।

शारीरिक संबंध बनाने को कहता था, तीन बहनों ने दी खौफनाक मौत

दरअसल, अभी तक बड़ी संख्या में कर्मचारियों की छंटनी करने से पहले कंपनियों को सरकार की इजाजत लेनी पड़ती थी और सरकार ऐसी इजाजत मुश्किल से ही देती थी। नियमों में सरकार की तरफ से कुछ ढील दी जा सकती है।

बनकर तैयार है दुनिया की पहली ट्रांसफॉर्मर कार, देखें कैसे 50 सेकंड में BMW बन जाती है रोबोट

कंपनियों की यह भी शिकायत है कि इस नियम ने स्‍थायी नियुक्ति को हतोत्‍साहित हुई है, जिसके चलते फैक्ट्रियों का आकार छोटा रहता है। इसे ध्यान में रखते हुए नए कानून में इन प्रतिबंधों में छूट दी जा सकती है।

रूस की सेना पहुंची पाकिस्तान, पहली बार 17 दिनों तक होगा युद्धाभ्‍यास

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
new rule to hire and fire may become a trouble for you
Please Wait while comments are loading...