NDTV इंडिया पर लगे बैन को सुभाष चंद्रा ने ठहराया सही कहा, लाइफ टाइम लगा दो प्रतिबंध

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। न्‍यूज चैनल एनडीटीवी इंडिया के प्रसारण पर 24 घंटे की रोक लगाने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। इस मामले में अब जी मीडिया ग्रुप के प्रमुख और राज्‍य सभा सांसद सुभाष चंद्रा कूद पड़े हैं। सुभाष चंद्रा ने एनडीटीवी इंडिया पर लगे बैन को सही ठहराया है और कहा है कि इसपर आजीवन प्रतिबंध लगा देना चाहिए था।

दिल्ली प्रदूषण: 5 दिनों के लिए हर तरह के निर्माण कार्य बंद

Zee founder Subhash Chandra

सुभाष चंद्रा ने माइक्रो ब्‍लॉगिंग साइट ट्वीटर पर एक के बाद ताबड़तोड़ ट्वीट कर लिखा कि एनडीटीवी इंडिया पर एकदिवसीय प्रतिबंध नाइंसाफी है, यह सजा बहुत कम है। देश की सुरक्षा से खिलवाड़ के लिए उन पर आजीवन प्रतिबंध लगाना चाहिए था।

उन्‍होंने लिखा है कि मेरा तो यह भी विश्वास है की अगर एनडीटीवी इंडिया न्यायालय में जाए तो उसे वहां से भी फटकार ही मिलेगी।

यूपीए शासनकाल में जी पर प्रतिबंध की बात चली थी, तब एनडीटीवी और बाकि तथाकथित बुद्धिजीवियों ने मौन धारण करा था। एडिटर्स गिल्ड भी चुप्पी साधे हुआ था।

पर आज गलत को गलत कहने पर कुछ लोग आपातकाल कह रहे है। क्या देश की सुरक्षा का कोई भी महत्त्व नहीं । उन्होंने कहा कि देश की सुरक्षा में दो मत नहीं हो सकते।

सरकार द्वारा NDTV इंडिया पर एकदिवसीय प्रतिबंध को मैं बिल्कुल सही मानता हूं।

 

क्‍यों लगा है बैन?

हिंदी न्यूज़ चैनल एनडीटीवी इंडिया पर आरोप है कि उसने पठानकोट हमले के दौरान ऐसी संवेदशनशील जानकारी प्रसारित की जिससे आतंकवादियों को मदद मिल सकती थी। सरकार ने नियमों के उल्लंघन के आरोप में एनडीटीवी इंडिया पर एक दिन का बैन लगाया है।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
While the whole nation is outraged over the one-day ban imposed on NDTV by the Information and Broadcast Ministry (I&B), the Zee founder Subhash Chandra also looks irate over the issue.
Please Wait while comments are loading...