समाज के निचले तबके को ध्यान में रख कर फैसला करें अधिकारी: मोदी

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2014 बैच के आइएएस अधिकारियों से मुलाकात में कहा कि काम पर राजनीति हावी नहीं होनी चाहिए। हमेशा नीति ही सर्वोपरि होनी चाहिए।

modi

पीएम ने इन आईएएस अधिकारियों को कहा कि कोई भी फैसला करते वक्त देश और देश की सबसे पिछली पंक्ति में खड़े व्यक्ति के हित का ध्यान रखा जाना चाहिए। पीएम मोदी मे गुरूवार को ये बातें कहीं।

विश्व बैंक की रिपोर्ट में भारत की खराब रैंकिंग की वजह पता करेंगे पीएम मोदी

केंद्र सरकार के विभिन्न मंत्रालयों में सहायक सचिवों के तौर पर तीन महीने का प्रशिक्षण पूरा करने वाले इन आइएएस अधिकारियों ने प्रत्यक्ष लाभ अंतरण, स्वच्छ भारत, ई-कोर्ट, पर्यटन और स्वास्थ्य विभिन्न विषयों पर मोदी के सामने प्रस्तुतियां दीं।

सरकार के काम की समीक्षा करें सचिव: मोदी

पीएम मोदी ने गुरुवार शाम को ही एक और बैठक में भी भाग लिया। ये केंद्र सरकार के सभी सचिवों की बैठक थी। इसमें काबीना और राज्य स्तर के मंत्री भी उपस्थित थे।

प्रधानमंत्री कार्यालय ने एक बयान में कहा गया है कि सचिवों के दस नए समूह बनाए जा रहे हैं। यह समूह विभिन्न मुद्दों पर गौर करेंगे और नवंबर के अंत तक अपनी रिपोर्ट सौंपेंगे।

न्‍यूजीलैंड के पीएम का इशारा भारत जल्‍द बनेगा एनएसजी सदस्‍य

मोदी ने सचिवों से कहा कि वे अपने-अपने अध्ययन वाले क्षेत्र में सरकार के अब तक के काम की आलोचनात्मक समीक्षा करें।

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत सरकार के सचिवों की टोली के पास ऐसी सोच और अनुभव है जिससे वे भारत के लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए नीतियों का निर्माण कर सकते हैं।

पीएम के बयान सपा-बसपा मिले हैं पर भड़कीं मायावती, बोलीं अपने गिरेबान में झांके

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
narendra modi interaction with IAS officers
Please Wait while comments are loading...