पीएम नरेंद्र मोदी ने जहां की थी चाय पर चर्चा, वह दुकान सील कर गिराई

Subscribe to Oneindia Hindi

अहमदाबाद ट्रैफिक जाम की समस्या को वजह बताते हुए अहमदाबाद म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन (एएमसी) ने अहमदाबाद के उस फेमस चाय की दुकान को सील कर गिरा दिया है जहां से पीएम नरेंद्र मोदी ने 2014 के चुनाव में चाय पर चर्चा अभियान को लॉन्च किया था।

एएमसी ने पश्चिमी अहमदाबाद के एक हाईवे पर स्थित आठ दुकानों वाले इस शॉपिंग कॉमप्लेक्स को सील कर दिया है जिसमें इस्कॉन गंथिया नाम की यह चाय की दुकान भी थी। चाय पर चर्चा से सुर्खियों में आने के बाद इस दुकान का नाम नमो टी स्टॉल कर दिया गया था।

READ ALSO: 'हिंदू बच्चे तो पैदा कर लें, क्या मोदी जी रोटी देंगे?'

narendra modi chai pe charcha

मोदी की फोटो के साथ सुर्खियों में छाई थी यह दुकान

भारतीय जनता पार्टी के पीएम कैंडिडेट के तौर पर नरेंद्र मोदी पश्चिमी अहमदाबाद में एसजी हाईवे पर स्थित इस चाय की दुकान पर बैठे थे और चाय पीते हुए लोगों से बात की थी। यहां पर 13 फरवरी 2014 को नरेंद्र मोदी ने दो घंटे तक देश के 300 शहरों के लगभग 1000 चाय की दुकानों पर बैठे लोगों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बात की थी।

नरेंद्र मोदी की चाय पीती हुई तस्वीर के साथ दुकान ने उस समय काफी सुर्खियां बटोरी थी। इस दुकान को एएमसी ने 5 अगस्त को सील करने के बाद गिरा दिया है।

READ ALSO: पैन कार्ड नंबर दे देता है आपके नाम का सुराग, पढ़िए कैसे

गाड़ियों की पार्किंग बनी सील करने की वजह

एएमसी का कहना है कि इस शॉपिंग कॉम्पलेक्स की दुकानों में अधिकांशत: खाने पीने की चीजें मिलती थीं और यहां पार्किंग की जगह नहीं होने की वजह से लोग इधर उधर गाड़ियां खड़ी करते थे जिस वजह से एस जी हाईवे पर जाम लगता था और दुर्घटनाएं होती थीं।

इन दुकानों को बार-बार पार्किंग के लिए जगह बनाने को कहा जा रहा था लेकिन इन्होंने नहीं किया। यही नहीं, ये दुकान गैरकानूनी हैं क्योंकि इस कॉम्प्लेक्स को सरकारी मंजूरी नहीं मिली है। इनके पास बिल्डिंग यूज परमिशन तक नहीं है। इसलिए इनको अनिश्चित काल के लिए सील कर दिया गया है।

'पहले से ही झेल रहे थे नुकसान, अब दुकान हुई सील'

पिछले छह साल से इस्कॉन गंथिया चाय की दुकान चला रहीं अमी बेन के पति गिरी गोस्वामी का कहना है कि हमें पहले ही चार पांच लाख नुकसान हो चुका था। दुकान का रेंट बहुत ज्यादा था और हमें स्टाफ की सैलरी भी देनी पड़ती थी। दुकान सील होने के बाद हमें और नुकसान हो गया।

READ ALOS: काम के बदले 'सेक्सुअल फेवर' लेना भी माना जाएगा रिश्वत

'पावरफुल लोगों के क्लब की वजह से दुकानें हुईं सील'

दुकानदारों का कहना है कि ये जाम उनकी वजह से नहीं लगता था बल्कि सामने सिटी का हाई प्रोफाइल कर्णावती क्लब है जहां आने वाले लोग शॉपिंग कॉम्प्लेक्स के पास गाड़ियां खड़ी करते थे। हम उनको मना करते थे लेकिन कर्णावती क्लब में आने वाले शहर के धनाढ्य और पावरफुल लोग नहीं मानते थे। एएमसी को हमने जमीन के सारे रिकॉर्ड दिए लेकिन फिर भी दुकानों को सील कर दिया गया। इनमें वह नमो टी स्टॉल भी शामिल है जहां मोदी ने चाय पर चर्चा की थी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
The famous tea stall of Ahmedabad from where PM Narendra Modi launched Chai Pe Charcha campaign has been sealed and dismantled by AMC.
Please Wait while comments are loading...