फूलपुर-हल्दिया पाइपलाइन के लिए 5176 करोड़ हुए मंजूर, 21000 को रोजगार मिलने का दावा

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। कैबिनेट कमिटी ऑन इकोनॉमिक अफेयर्स (CCEA) ने बुधवार को 2539 किलोमीटर लंबी जगदीशपुर-हल्दिया और बोकारो-धमारा गैस पाइपलाइन (जेएचबीडीपीएल) के लिए 5,176 करोड़ रुपये की कैपिटल ग्रांट को मंजूरी दे दी। यह रकम कुल 12,940 करोड़ रुपये के प्रोजेक्ट का 40 फीसदी है। इस गैस पाइपलाइन से देश के पूर्वी हिस्से को नेशनल गैस ग्रिड को जोड़ने में मदद मिलेगी।

Narendra Modi

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुआई में सीसीईए ने यह फैसला लिया। इस प्रोजेक्ट से उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, ओडिशा और पश्चिम बंगाल को इंडस्ट्रियल, कमर्शियल, डॉमेस्टिक और ट्रांसपोर्ट सेक्टरों के लिए नैचुरल गैस जैसे क्लीन और इकोफ्रेंडली फ्यूल की उपलब्धता सुनिश्चित होगी। इस कैपिटल ग्रांट से उद्योगों को किफायती टैरिफ पर इको-फ्रेंडली फ्यूल की आपूर्ति को बढ़ावा मिलेगा।

पढ़ें: UNGA में भारत के खिलाफ नवाज शरीफ के 10 कड़वे बोल

21 हजार लोगों को मिलेगा रोजगार
इससे देश के इस्टर्न रीजन में घरों तक क्लीन कुकिंग फ्यूल पहुंचाने में मदद मिलेगी। सीजीडी नेटवर्क से सीधे तौर पर इन शहरों में रहने वाली 1.25 करोड़ आबादी को फायदा होगा। इन प्रोजेक्ट्स से प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से 21 हजार लोगों को रोजगार मिलेगा। साथ ही देश के ईस्टर्न पार्ट में सोशियो-इकोनॉमिक डेवलपमेंट को बढ़ावा मिलेगा।

पढ़ें: RJD नेता ने उरी हमले के शहीदों का किया अपमान

इन शहरों को सौगात
सीसीईए ने वाराणसी, पटना, रांची, जमशेदपुर, भुवनेश्वर, कोलकाता, कटक आदि शहरों में सिटी गैस डिस्ट्रीब्यूशन (सीजीडी) के विकास को भी मंजूरी दी। ये शहर जेएचबीडीपीएल प्रोजेक्ट के रूट पर पड़ेंगे। गेल संबंधित राज्य सरकारों के साथ मिलकर इन डिस्ट्रीब्यूशन नेटवर्क्स को विकसित करेगी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
modi government gives Rs 5176 cr to link Eastern India with gas grid.
Please Wait while comments are loading...