कावेरी : गृहमंत्री ने कहा, होगी बेंगलुरु हिंसा में RSS के शामिल होने की जांच

Subscribe to Oneindia Hindi

बेंगलुरुकर्नाटक के गृहमंत्री डॉ जी परमेश्वर ने सोमवार (12 सितंबर) को बेंगलुरु में हुई हिंसा की जांच का वादा किया है।

cauvery, cauvery river dispute, rss,

बोले अखिलेश- मुझे शिवपाल मंजूर, नेताजी को तंग मत करो

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष का भी पद संभाल रहे परमेश्वर ने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ अथवा उसके किसी अन्य सहयोगी संगठन की हिंसा में संलिप्तता की जांच की जाएगी। यह बाते उन्होंने कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमेटी की बैठक में कही।

गौरतलब है कि तमिलनाडु और कर्नाटक के बीच चल रहे कावेरी विवाद पर सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के बाद बेंगलुरु में कई जगहों पर बहुत हिंसा हुई थी, जिसमें 3 लोगों की मौत भी हुई थी।

कांग्रेस के कुछ नेताओं ने लगाया आरोप

jio के ग्राहकों ने बताया कैसा चल रहा है सिम, आ रही हैं ये 5 दिक्कतें

शुक्रवार (16 सितंबर)को प्रदेश कमेटी की बैठक में कांग्रेस के कुछ नेताओं ने यह आरोप लगाया कि सिद्धारमैया की सरकार अस्थिर करने के लिए RSS कार्यकर्ता इस हिंसा में शामिल थे।

इसके जवाब में परमेश्वर ने कहा कि इस संबंध में जांच कराई जाएगी कि RSS या उसका कोई अन्य सहयोगी संगठन इस हिंसा में शामिल था या नहीं।

प्रदेश कमेटी के एक सदस्य ने कहा कि बीते सोमवार को शहर में हुई हिंसा का कारण RSS है।

भाजपा ने किया सिद्धारमैया सरकार के फैसले का स्वागत

यूपी चुनाव जीतने के लिए असम मॉडल पर भाजपा का यह 5 प्वाइंट प्लान

वहीं भारतीय जनता पार्टी के कर्नाटक इकाई के प्रदेश अध्यक्ष बी.एस.येदुरप्पा ने एक प्रेस वार्ता में सिद्धारमैया सरकार के उस कदम का स्वागत किया है जिसमें सरकार की ओर से न्यायालय में इस संबंध में याचिका दी है।

याचिका में कहा गया है कि सर्वोच्च न्यायालय की विशेषज्ञों की टीम आकर तमिलनाडु और कर्नाटक की जमीनी हकीकत का जायज लेना चाहिए।

येदुरप्पा ने कहा कि कांग्रेस सरकार गहरी नींद से जाग गई है और सर्वोच्च न्यायालय से मांग की है कि इस मामले का अध्ययन एक्सपर्ट टीम करे। यह कदम लंबे समय से अपेक्षित था।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Congress minister in Karnatka promised investigation of rss involvment in cauvery voilence.
Please Wait while comments are loading...