आतंकी मसूद बोला- थोड़ी हिम्मत दिखाए पाक, 1971 की कड़वी यादें हो जाएंगी खत्म

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। भले ही भारत की तरफ से पाकिस्तान में की गई सर्जिकल स्ट्राइक को पाकिस्तान लगातार नकार रहा हो, लेकिन जैश-ए-मोहम्मद का मुखिया मसूद अजहर इस बात को स्वीकार कर रहा है। मसूद अजहर ने भारत के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए जिहादी ग्रुप को मंजूरी दे दी गई है।कौन है चीन का चहेता आतंकी और उरी का मास्‍टरमाइंड मौलाना मसूद अजहर

masood

अगर 'सर्जिकल स्ट्राइक' हुई होती तो मिलता मुंह तोड़ जवाब: पाकिस्तान

पठानकोट आतंकी हमले के मास्टरमाइंड ने खुद पाकिस्तान पर ही सवाल खड़ा करते हुए कहा है कि सही वक्त पर सही फैसला लेने की कमी और ऐतिहासिक अवसर को भुनाने की असमर्थता का ही नतीजा है कि पाकिस्तान को आज कश्मीर में ऐसे दिन देखने पड़ रहे हैं।

जेएनयू में फूंका गया पीएम मोदी का पुतला, लगे मुर्दाबाद के नारे

मसूद अजहर का ये बयान जैश-ए-मोहम्मद की साप्ताहिक मैगजीन अल कलाम के लेस्टेस्ट एडिशन में छापा गया है। आर्टिकल में यह भी कहा गया है कि अगर पाकिस्तान सरकार थोड़ी हिम्मत दिखाए कश्मीर और सिंधु जल की समस्या हमेशा के लिए खत्म हो सकती है।

सपा के मंत्री का विवादित बयान, पीएम मोदी को बताया रावण

मसूद अजहर ने कहा है कि अगर कुछ नहीं हो सकता तो पाकिस्तान की सरकार सिर्फ मुजाहिदीन के लिए रास्ता साफ कर दे। इसके बाद अल्लाह ने चाहा तो 2016 की हिम्मत के आगे 1971 की सारी कड़वी यादें खत्म हो जाएंगी।

मसूद अजहर ने कहा है कि पाकिस्तान सरकार को अपनी पॉलिसी में बदलाव करने की जरूरत है। जिहादी नीतियों के चलते 1990 में पाकिस्तान को काफी फायदा हुआ था। उसने कहा कि हिंदुस्तान अखंड भारत की सोच पर चल रहा है, ऐसे में अगर पाकिस्तान जिहादी नीति पर काम करे तो भारत को तोड़ना बहुत ही आसान हो जाएगा।

गुजरात सरकार ने 21 आईपीएस अधिकारियों का किया तबादला

मसूद ने लिखा है कि भारत की सेना में कितनी ताकत है, पठानकोट और उरी हमले ने उसकी पोल खोल दी है। आज के समय में भारत पाकिस्तान पर दबाव बना रहा है। मसूद ने कश्मीर को पाकिस्तान के गले की नस कहा है। वह बोला कि हमें सार्क सम्मेलन को भी रद्द कर देना चाहिए और सीमा पर सीजफायर उल्लंघन बंद कर देना चाहिए।

कमजोर, भूखा और कुपोषित है भारत: GHI की रैंकिंग में 97वां स्थान

उसने कहा है कि पिछले 90 दिनों में कश्मीर में कई मुस्लिम मारे गए हैं और कई जख्मी हो गए हैं। मसूद का मानना है कि अगर कश्मीर में जिहाद को फैलाया जाएगा तो वहां से भारत का नामोनिशां मिट जाएगा और हर तरफ सिर्फ जिहाद होगा।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Masood Azhar allowed jihadist to escalate their operations against India
Please Wait while comments are loading...