लालकृष्ण आडवाणी ने तीन केंद्रीय मंत्रियों के सामने रखा चौंकाने वाला प्रस्ताव

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। मंगलवार को दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी के सांसदों की एक अहम बैठक थी। बैठक खत्म हुई तो पार्टी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी ने केंद्र के तीन मंत्रियों वित्त मंत्री अरुण जेटली, कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद और संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार को रोककर उनके सामने एक ऐसा प्रस्ताव रख दिया कि सुनकर तीनों मंत्री चौंक गए।

lal krishna advani

दरअसल भाजपा संसदीय दल की इस बैठक में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने तीन अध्यादेशों का जिक्र करते हुए बताया कि सरकार अब इन अध्यादेशों को विधेयक के रूप में लेकर आ रही है। जेटली ने यह भी बताया कि इन अध्यादेशों को बार-बार क्यों लाना पड़ा। इन अध्यादेशों में शत्रु संपत्ति अध्यादेश भी शामिल है। उन्होंने बताया कि पहले इसे एक बिल के रूप में लोकसभा में पेश किया गया, जहां यह पारित हो गया, लेकिन राज्यसभा में विपक्ष ने इस बिल पर असहमति जताई और यह बिल राज्यसभा में लटक गया। इसलिए सरकार को इसे लेकर कई बार अध्यादेश जारी करना पड़ा।

मनमोहन, सोनिया से बात करने को तैयार आडवाणी

बैठक खत्म होने के बाद जब सभी सांसद और मंत्री बाहर निकले तो आडवाणी ने जेटली, रविशंकर प्रसाद और अनंत कुमार को रोक लिया। आडवाणी ने तीनों मंत्रियों से कहा कि यह एक बहुत गंभीर मुद्दा है जो देश की सुरक्षा से जुड़ा है। उन्होंने प्रस्ताव रखा कि अगर जरूरत पड़ती है तो वो पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से इस मुद्दे पर बात करने को तैयार हैं। आपको बता दें कि संसद में इस समय बजट सत्र चल रहा है और सरकार की कोशिश इस सत्र में अहम बिलों को पास करने की है। ये भी पढ़ें- वाराणसी: BJP कैंडिडेट का वोट काटने चुनावी मैदान में BJP नेता

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
LK Advani had kept shocking proposal in front of Union Ministers.
Please Wait while comments are loading...