बरेली -अंशिका के चार गुनहगारों को उम्रकैद

बरेली के सुभाषनगर के नेकपुर बाग का चर्चित अंशिका हत्याकांड में जिला सत्र न्यायलय ने अपना फैसला सुना दिया है ।

Subscribe to Oneindia Hindi

बरेली : बरेली के सुभाषनगर के नेकपुर बाग का चर्चित अंशिका हत्याकांड में जिला सत्र न्यायलय ने अपना फैसला सुना दिया है ।

कोर्ट ने चार वर्षीय अंशिका की हत्या के लिए अंशिका के पडोसी सतेंदर शर्मा की पत्नी , बेटा बहु को दोषी मानते हुए चारों को उम्रकैद सुनाने के साथ प्रत्येक पर पांच हजार रुपए अर्थ दंड भी लगाया है । 

court

केरल: 13 आरएसएस कार्यकर्ता सीपीआईएम नेता विष्णु के मर्डर के दोषी करार

दरसल पूरा मामला यह है 12 सितंबर 2014 को आंशिका घर से लापता हो गई थी , जिसकी गुमशुदगी थाना सुभाषनगर में भी दर्ज कराई गई थी ।

लेकिन अंशिका की काफी तलाश के बाद यह बात सामने निकल आई थी कि आखरि बार अंशिका को पडोसी के घर की तरफ जाता देखा गया था ।

इसी आधार पर अंशिका चाचा ने सर्वेश ने तलाश शुरू की तब पता चला था की अंशिका हत्याकर शब को गटर में बंद कर दफना दिया गया था ।

मोदी सरकार की नोटबंदी की संवैधानिक वैधता की जांच के लिए 5 जजों की बेंच: सुप्रीम कोर्ट

बाद में पुलिस ने परिवार की निशानदेही पर शब् को गटर से निकालकर शब को पोस्टमार्टम के लिए भेजा था ।

न्याय मिलने के बाद अंशिका का परिवार बेहद खुश है वही सतेंदर का परिवार उच्च न्यायलय में जाने का विचार कर रहा है ।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Subhashnagr installment of the high-profile murder of Bareilly Nekpur Bagh district sessions court gave its judgment.
Please Wait while comments are loading...