जेलब्रेक से पहले ISI के संपर्क में था खूंखार आतंकी हरमिंदर सिंह मिंटू, पूछताछ में किए कई खुलासे

मिंटू ने यह भी कबूल किया है कि नाभा जेल ब्रेक का मास्टरमाइंड वही है और उसी ने साजिश को अंजाम तक पहुंचाया। इसमें कई लोगों ने उसकी मदद की।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। पंजाब की नाभा जेल से फरार होने वाले खालिस्तान लिबरेशन फोर्स (KLF) के आतंकी हरमिंदर सिंह मिंटू ने खुलासा किया है कि वह जेल ब्रेक से कुछ दिन पहले पाकिस्तानी आतंकी हैंडलर हरमीत के संपर्क पर था। उसने उससे इंटरनेट के जरिए चैट किया था।

harminder mintoo

सूत्रों के मुताबिक, हरमिंदर ने यह भी बताया है कि हरमीत लाहौर में पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी के सेफ हाउस में रहता है। इसके अलावा उसने यह भी बताया कि उसके कंबोडिया, लाओस, म्यांमार और थाईलैंड में भी बेस हैं और आईएसआई इन्हीं ठिकानों के जरिए आतंकी राज लाना चाहती है।

ATM की लाइन से चाहिए छुटकारा तो यहां से निकालें पैसे

मिंटू ने यह भी कबूल किया है कि नाभा जेल ब्रेक का मास्टरमाइंड वही है और उसी ने साजिश को अंजाम तक पहुंचाया। इसमें कई लोगों ने उसकी मदद की।

उसने बताया कि KLF के समर्थक जर्मनी और इंग्लैंड में भी हैं। जो वहां से हवाला के जरिए पैसा भेजते हैं ताकि आंदोलन को आगे बढ़ाया जा सके।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
KLF terrorist Harminder Singh Mintu was in contact with isi before nabha jail break.
Please Wait while comments are loading...