'यूपी में मुसलमानों को डरने की जरूरत नहीं है'

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में जिस तरह से योगी आदित्यनाथ को प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाया गया है उसके बाद से मुस्लिम समुदाय को लेकर एक बड़ा सवाल यह उठ रहा है कि क्या योगी के नेतृत्व में वो सुरक्षित हैं। ऐसे में प्रदेश के नवनिर्वाचित उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या ने बयान दिया है कि भाजपा हिंदू और मुस्लिमों में भेदभाव नहीं करती है और हम दोनों ही समुदाय का बराबरी का दर्जा देती है।

योगी के सीएम बनने पर बोलीं उमा भारती, यह 21वीं सदी की सर्वश्रेष्ठ खबर

केशव प्रसाद मौर्या ने कहा कि मुसलमानों को डरने की कोई भी जरूरत नहीं है, उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सबका साथ सबका विकास के एजेंडे पर ही प्रदेश की सरकार काम करेगी, हम यूपी की पूरी आबादी को एक ही नजर से देखते हैं, हम हिंदू और मुसलमान में कोई भेद नहीं करते हैं, हम मुसलमानों को अलग से नहीं देखते हैं, हमारे लिए सभी यूपी वासी एक हैं।

हम विकास के लिए एकजुट होकर काम करेंगे

मौर्या ने कहा कि हम विकास के लिए एकजुट होकर काम करेंगे, हम जाति धर्म के आधार पर किसी के साथ भेदभाव नहीं करेंगे और सबको साथ लेकर चलेंगे। उन्होंने कहा कि यूपी में सरकार का कामकाज पार्टी के मैनिफेस्टो के आधार पर आगे बढ़ेगा, हमने अपने घोषणा पत्र को लोक कल्याण पत्र का नाम दिया है हम उसी के हिसाब से लोगों के लिए जनहित के काम करेंगे।

मैं भाजपा का कार्यकर्ता हूं...

वहीं जब केशव प्रसाद मौर्या से पूछा गया कि आपको मुख्यमंत्री क्यों नहीं बनाया गया तो उनका कहना है कि मुझे किसी भी तरह की शिकायत नहीं है, मैं भाजपा का कार्यकर्ता हूं, मैं पार्टी के द्वारा दी गई जिम्मेदारी को पूरी मेहनत से निभाउंगा।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Keshav Prasad Maurya says there is no need to worry to Muslims. He says BJP does not discriminated between Hindu and Muslims.
Please Wait while comments are loading...