करण जौहर के लिए 'ये दिन हैं मुश्किल', जानिए कैसे?

करण जौहर ने अपने वीडियो संदेश के जरिए देश की जनता को ये भी कहा कि अब वो पाकिस्तानी कलाकारों को लेकर कोई फिल्म नहीं करेंगे।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। फिल्म 'ऐ दिल है मुश्किल' की रिलीज को लेकर हुए विवाद के बीच निर्माता-निर्देशक करण जौहर को खुद सामने आना पड़ा। उन्होंने देशवासियों के लिए वीडियो संदेश जारी करते हुए कहा कि उनके लिए देश पहले है, बाकी सब बाद में।

एक ट्रांसफर के लिए भाजपा के दो सांसदों की चिट्ठी, क्या करें पर्रिकर?

आखिर करण जौहर ने तोड़ी चुप्पी

करण जौहर ने अपने वीडियो संदेश के जरिए देश की जनता को ये भी कहा कि अब वो पाकिस्तानी कलाकारों को लेकर कोई फिल्म नहीं करेंगे। हालांकि उन्होंने अपनी फिल्म 'ऐ दिल है मुश्किल' की रिलीज को सफल बनाने की अपील भी की।

कांग्रेस नेता आरके राय ने राहुल गांधी को बोला गधा, हुए निलंबित, देखें वीडियो

बता दें कि उरी आतंकी हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच रिश्ते बेहद खराब हो गए। पूरे देश में पाकिस्तान के खिलाफ आवाजें बुलंद होने लगी। इस बीच बॉलीवुड में पाकिस्तानी कलाकारों का विरोध भी शुरू हो गया।

फिल्म 'ऐ दिल है मुश्किल' को लेकर विवाद, करण ने दी सफाई

राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना हो या फिर दूसरे संगठन, सभी ने पाकिस्तानी कलाकारों का विरोध शुरू कर दिया। उनकी बस यही मांग थी कि पाकिस्तानी कलाकारों को बॉलीवुड में मौका नहीं मिलना चाहिए। उन्हें अपने देश वापस जाना चाहिए।

करण जौहर की फिल्म 'ऐ दिल है मुश्किल' में पाकिस्तानी कलाकार फवाद खान का मौका दिया गया था। जिसके चलते इसकी रिलीज का विरोध होने लगा। इतना ही नहीं बॉलीवुड भी इस मुद्दे पर दो फाड़ नजर आया। जहां एक पक्ष कला और फिल्म को भारत-पाकिस्तान विवाद से दूर रखने की बात कर रहा था, वहीं दूसरा पक्ष था जो पाकिस्तान से किसी भी तरह के रिश्ते नहीं रखने का समर्थक था।

पुलिस ने माथे पर गुदवा दिया जेबकतरी, 23 साल बाद मिली सजा

करण बोले, मेरे लिए देश सबसे पहले है

निर्माता-निर्देशक करण जौहर ने कहा कि बीते दो हफ्ते से कहा जा रहा है कि मैं चुप क्यों हूं इसकी वजह यह है कि कुछ लोग यह वाकई मानने लगे हैं कि मैं राष्ट्रविरोधी हूं जिसकी वजह से मैं काफी परेशान हूं।

उन्होंने कहा कि मेरे लिए देश सबसे पहले है और मेरे लिए और कुछ मायने नहीं रखता, सिवाय देश के।

'देश के प्रति उतना ही प्रेम है जितना अन्य लोगों को'

करण जौहर ने अपने बयान से ये जताने की कोशिश जरूर किया कि उनमें भी देश के प्रति उतना ही प्रेम है जितना अन्य लोगों को है।

उन्होंने कहा कि मैंने हमेशा महसूस किया है कि राष्ट्रवाद को अभिव्यक्त करने का बेहतर रास्ता प्यार बांटना है जो मैंने हमेशा मेरी फिल्मों और काम के जरिए करने की कोशिश की है।

'ऐ दिल है मुश्किल' में पाकिस्तानी कलाकार को लेने पर क्या बोले करण

करण जौहर ने फिल्म 'ऐ दिल है मुश्किल' में पाकिस्तानी कलाकार को लेने पर सफाई पेश करते हुए कहा कि जब मैंने बीते साल सितंबर से दिसंबर के बीच फिल्म की शूटिंग की थी तो माहौल बहुत अलग थे। तब दोनों देशों के बीच परिस्थितियां भी अलग थीं।

करण जौहर ने कहा उस वक्त हमारी सरकार की ओर से भी पड़ोसी मुल्क के साथ शांतिपूर्ण रिश्तों को बरकरार रखने के लिए प्रयास किए जा रहे थे और मैंने उस समय उन प्रयासों का सम्मान किया।

'किसी पाक कलाकार को फिल्म में नहीं लूंगा'

करण ने कहा कि मैं सभी की भावनाओं का सम्मान करता हूं। मैं आज की भावनाओं का भी सम्मान करता हूं, मैं भावनाओं का इसलिए सम्मान कर रहा हूं क्योंकि मैं शर्म महसूस कर रहा हूं।

उन्होंने आगे कहा कि मैं यह कहना चाहता हूं कि मैं मौजूदा हालात में पड़ोसी मुल्क से किसी को फिल्म में नहीं लूंगा।

'ऐ दिल है मुश्किल' की रिलीज को लेकर क्या बोले करण जौहर

करण जौहर ने आगे कहा कि मैं यह भी कहना चाहता हूं कि 'ऐ दिल है मुश्किल' फिल्म में करीब 300 से ज्यादा भारतीय लोगों का खून, पसीना और आंसू लगे हैं जो मेरे क्रू में शामिल थे। उन्होंने कहा कि मैं यह नहीं सोचता कि उन भारतीयों को किसी तरह की दिक्कत होना चाहिए।

करण जौहर बोले, भारतीय सेना को सैल्यूट करता हूं

फिल्म 'ऐ दिल है मुश्किल' के निर्माता-निर्देशक करण जौहर ने भारतीय सेना के समर्थन में भी अपनी आवाज बुलंद की। उन्होंने कहा कि मैं भारतीय सेना का सम्मान करता हूं। उन्हें सैल्यूट करता हूं और शुक्रगुजार हूं, जो हमारी रक्षा के लिए वो हर संभव कोशिश करती है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
karan jauhar big statement on pakistani actors on bollywood and about his film.
Please Wait while comments are loading...