जेएनयू से लापता छात्र नजीब अहमद का पता लगने का महिला ने किया दावा, लिखा लेटर

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी से रहस्‍मयी ढंग से लापता छात्र नजीब अहमद को अलीगढ़ में देखा गया है। यह दावा अलीगढ़ की एक महिला ने पत्र लिखकर किया है।

जेएनयू से लापता छात्र नजीब अहमद का पता लगने का महिला ने किया दावा, लिखा लेटर

गायब छात्र नजीब की बहन ने कहा- नजीब को बदनाम ना करे दिल्ली पुलिस

एमएससी स्‍टूडेंट नजीब अहमद 14 नवंबर को जेएनयू के माही मांडवी हॉस्‍टल से लापता हो गया था। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।

महिला का पत्र पहले हॉस्‍टल प्रेसिडेंट अजीम को मिला और फिर उसने नजीब अहमद की मां फातिमा नफीस को सौंप दिया। फातिमा ने इसे क्राइम ब्रांच को दे दिया है।

इस लेटर में महिला ने लिखा है कि उसने नजीब को अलीगढ़ के बाजार में देखा। वह मदद के लिए गुहार कर रहा था और कह रहा था कि उसे कैद किया गया है। महिला के मुताबिक, वह नजीब की मदद कर पाती कि इससे पहले ही वह कहीं गुम हो गया।

इस अंदाज में JNU के छात्रों ने नजीब के नाम पर दिखाई एकता

उसने लेटर में अपना पता भी लिखा है जहां कि उससे कोई भी संपर्क कर सकता है।

जब क्राइम ब्रांच के अफसर लेटर में दिए गए पते पर पहुंचे तो कोई भी नहीं मिला। इस लेटर में ऐसी किसी जगह का भी जिक्र नहीं है जिससे कि साफ हो सके कि नजीब को कहां कैद कर रखा गया है।

जिस कोरियर एजेंसी ने यह लेटर डिलीवर किया, पुलिस उससे भी पूछेगी कि इसे कहां से उठाया गया और किसने भेजा। इस लेटर में हैंडराइटिंग पहचानने के लिए इसे फोरेंसिक जांच के लिए भी भेजा जा सकता है।

इस बीच जामिया मिल्लिया यूनिवर्सिटी ने उस दिन का सीसीटीवी फुटेज पुलिस को सौंप दिया है जब नजीब जेएनयू छोड़ने के बाद वहां पहुंचा था।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
JNU lost student Najeeb Ahmed in Aligarh, claims woman in letter
Please Wait while comments are loading...