केंद्रीय मंत्री बोले, PoK में अपने भाईयों के साथ खड़े होना हमारी नैतिक जिम्मेदारी

Subscribe to Oneindia Hindi

पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में पाकिस्तानी सेना के खिलाफ लोगों का गुस्सा बढ़ता जा रहा है। गिलगिट और बल्टिस्तान इलाके में लोगों ने पाक सेना के खिलाफ जमकर नारेबाजी की है।

इस मुद्दे पर भारत सरकार की ओर से टिप्पणी आई है। केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा है कि पीओके के भाईयों की किसी भी समस्या में खड़े होना हमारी नैतिक और राष्ट्रीय जिम्मेदारी है।

jitendra singh

पीओके पर जितेंद्र सिंह का बड़ा बयान

केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि गिलगिट-बल्टिस्तान में जिस तरह से पाकिस्तानी सेना मानवाधिकार का हनन कर रही है, ऐसे माहौल में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इस मुद्दे को उठाया जाना चाहिए।

इतना ही नहीं केंद्रीय मंत्री ने आगे कहा कि हमारी 'तिरंगा यात्रा' तभी पूरी होगी जब हम पीओके के मुजफ्फराबाद स्थित कोटली में तिरंगा फहराने में कामयाब होंगे।

पीओके में पाकिस्तानी सेना के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन, नारेबाजी

आपको बता दें कि जितेंद्र सिंह का ये बयान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उस बयान के बाद आया है जिसमें उन्होंने पीओके को अपना बताया था।

पीएम मोदी के बयान से बलूचिस्तान के लोगों ने जगी आस

इस बीच बलूचिस्तान के सामाजिक कार्यकर्ता हम्माल हैदर बलोच ने प्रधानमंत्री मोदी के उस बयान का स्वागत किया है जिसमें उन्होंने बलूचिस्तान की आजादी का समर्थन देने का ऐलान किया था।

पीएम मोदी को मिला बलूचिस्तान के लोगों का साथ, कहा शुक्रिया

बलोच ने कहा था कि ऐसा पहली बार है जब किसी भारतीय प्रधानमंत्री ने इतना अहम फैसला लिया है।

बलूचिस्तान की एक और सामाजिक कार्यकर्ता नायला बलोच ने कहा था कि बलूचिस्तान के लोग बहुत परेशान हैं। उन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उम्मीदें है कि वो इस मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र में उठाएंगे।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Central Minister Jitendra Singh said our moral and national responsibility to stand by our brothers in PoK and also Gilgit-Baltistan.
Please Wait while comments are loading...