जाट आंदोलन रदद् होने के बाद खुले रहेंगे सभी मेट्रो स्टेशन

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। कल से शुरू होने वाला जाट आंदोलन 15 दिनों के लिए टल गया है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के साथ जाट नेताओं की मुलाकात के बाद जाट आंदोलनकारियों ने आंदोलन को 15 दिनों के लिए टाल दिया है। जाट आंदोलन टलने के बाद अब मेट्रो अपने सामान्य नियम के मुताबिक चलेगी।

 Jat leaders call off agitation in Delhi after talks with Haryana chief minister

जाट आंदोलन टलने के बाद सोमवार को पटेल चौक, केंद्रीय सचिवालय, उद्योग भवन और लोक कल्याण मार्ग मेट्रो स्टेशनों पर निकासी नहीं होगी। हालांकि यहां पर एंट्री की इजाजत दी गई है। वहीं स्पेशल पुलिस कमिश्नर दीपेंद्र पाठक ने बताया कि दिल्ली मेट्रो, बसें और लोकल ट्रेनें पहले की तरह चलेंगी। लेकिन दिल्ली और हरियाणा से सटे बॉर्डर वाले इलाकों में सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद ही रहेगी। दिल्ली मेट्रो ने बयान जारी कर कहा कि दिल्ली पुलिस के सुझाव को मानते हुए दिल्ली-एनसीआर के किसी भी मेट्रो स्टेशन को बंद नहीं किया जाएगा।

आपको बता दें कि जाट आरक्षण संघर्ष समिति ने जाट आरक्षण की मांग को लेकर सरकार और आंदोलनकारियों के बीच समझौता वार्ता सफल होने के बाद दिल्ली कूच का अपना कार्यक्रम टाल दिया है। सीएम मनोहर लाल खट्टर के साथ मुलाकात के बाद जाट आरक्षण संघर्ष समिति के अध्यक्ष यशपाल मलिक ने कहा कि सरकार पांच मुख्य मांगों को समयबद्ध तरीके से पूरा करेगी। सरकार की ओर से सकारात्मक आश्वासन मिलने के बाद उन्होंने आंदोलन को 15 दिनों के लिए टाल दिया है। यशपाल मलिक ने कहा कि 26 मार्च को अहम बैठक के बाद आंदोलन के आगे की दिशा पर फैसला किया जाएगा।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Jat leaders today called off their 'Delhi Gherao' agitation after the Haryana government agreed to their demands in a bid to end the community's 50-day long quota stir.
Please Wait while comments are loading...