600 बच्चों की भूख से मौत के सवाल पर भाजपा मंत्री का जवाब, 'होने भी दो'

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

महाराष्ट्र सरकार में आदिवासी विकास मंत्री विष्णु सावरा कुपोषण और भूख से हो रही मौतों के सवाल पर 'होने भी दो' कहकर बुरी तरह घिर गए हैं।

vishnu

महाराष्ट्र के पालघर मेंआदिवासियों के बीच भूख और कुपोषण से हो रही मौतों के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। पालघर जिले के गांव कालमबाडी में 30 अगस्त को एक साल के सागर ने भूख और कुपोषण के चलते दम तोड़ दिया था। मंगलवार को सागर के परिजनों से मिलने के लिए आदिवासी मंत्री विष्णु सावरे पहुंचे।

विष्णु सावरे के बच्चे की मौत के 15 दिन बाद सागर के परिजनों से मिलने पहुंचने को लेकर श्रमजीवी संगठनों ने उनका विरोध किया। श्रमजीवी संगठनो ने पालघर में हालिया दिनों में कुपोषण की वजह से हुई 600 मौतों की बात कहते हुए इस पर सवाल किया तो मंत्री जी ने कह दिया कि होने दो, इस पर हम क्या करें।

 

विपक्ष ने की सावरे को बर्खास्त करने की मांग

डेंगू के डंक से बच ना सके सितारे भी, मशहूर निर्देशक की जा चुकी है जान

मंत्री जी के बच्चों की भूख और कुपोषण से मौत के सवाल पर 'होने भी दो' कहने के बाद हंगामा हो गया। मंत्री के बयान को असंवेदनशील बताते हुए विपक्षी पार्टियों ने प्रदेश की भाजपा सरकार और मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़नवीस पर जमकर निशाना साधा है।

एनसीपी के प्रदेश अध्यक्ष राधाकृष्ण विखे पाटिल ने कहा कि यदि मुख्यमंत्री में जरा भी संवेदनशीलता है तो उन्हें तुरंत विष्णु सावरे को बर्खास्त करना चाहिए। पाटिल ने कहा कि सावरे 1990 से इस क्षेत्र से विधायक चुने जा रहे हैं, लेकिन उन्होंने क्षेत्र के लिए कुछ नहीं किया। जिससे यहां कुपोषण की समस्या गहराती ही जा रही है।

सावरे के इस बयान पर मुख्यमंत्री फड़नवीस ने भी नाराजगी जताई है, सरकार के दूसरे मंत्रियों ने भी इस पर सफाई दी है। वहीं आदिवासी विकास मंत्री विष्णु सावरे ने इस तरह की कोई बात कहने से ही इंकार किया है।

 

मेरी बात को गलत तरीके से पेश किया गया

बोले अखिलेश- मुझे शिवपाल मंजूर, नेताजी को तंग मत करो

विष्णु सावरे ने अपने बयान पर सफाई देते हुए कहा कि उन्होंने इस तरह का कोई बयान नहीं दिया है। उन्होंने कहा कि उन्हें नहीं पता कि किस तरह से इस तरह की बात कहने का आरोप उन पर लगाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मेरे बातों को तोड़-मरोड़ कर पेश किया जा रहा है।

विष्णु सावरे ने कहा कि वो खुद आदिवासी हैं और गरीबी को समझते हैं। सावरे ने कहा कि क्षेत्र की बेहतरी के लिए सरकार लगतार काम कर रही है। सावरे ने कहा कि वो खुद सालों से आदिवासियों के लिए काम कर रहे हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Informed of hunger death Maharashtra tribal development minister Vishnu Savara says Let it be
Please Wait while comments are loading...