इंदू सरकार का विरोध बढ़ा, मधुर भंडारकर को दी गई पुलिस सुरक्षा

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

मुंबई। पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के कार्यकाल में देश में लगे लागू आपातकाल पर बनी फिल्म इंदू सरकार के विरोध में प्रदर्शन के बीच फिल्म निर्माता मधुर भंडारकर को मुंबई पुलिस ने सुरक्षा प्रदान की है। फिल्म के प्रदर्शन से पहले प्रमोशन के लिए भंडारकर की प्रेस कांफ्रेंस के खिलाफ विरोध प्रदर्शन को देखते हुए मुंबई पुलिस ने उन्हें सुरक्षा मुहैया कराई है।

madhur bhandarkar

क्या आप इस गुंडागर्दी का समर्थन करते हैं

फिल्म प्रमोशन के लिए बुलाई गई प्रेस कांफ्रेंस के विरोध में जिस तरह से तमाम कांग्रेस कार्यकर्ता आए और इसकी वजह से प्रेस कांफ्रेंस को रद्द करना पड़ा उसके बाद मधुर भंडारकर ने सोशल मीडिया पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से सवाल पूछा है कि क्या मुझे मेरी अभियव्यक्ति की आजादी का अधिकार मिलेगा। भंडारकर ने लिखा कि पुणे के बाद मुजे आज अपनी दो प्रेस कांफ्रेंस को रद्द करना पड़ा है, क्या आप इस गुंडागर्दी को सही मानते हं, क्या मुझे मेरीअभियव्यक्ति की आजादी मिलेगी। 

रद्द करनी पड़ी थी प्रेस कांफ्रेंस

दरअसल भंडारकर ने रविववार को एक ट्वीट करके कहा था कि फिल्म इंदू सरकार के प्रमोशन के लिए आज नागपुर मे हूं, फिल्म के बारे में मीडिया से ढेर सारी बात करने को लेकर उत्साहित हूं। लेकिन कांग्रेस कार्यकर्ताओं के विरोध के चलते भंडारकर को अपनी प्रेस कांफ्रेंस को रद्द करना पड़ा था। इससे पहले शनिवार को भी भंडारकर को पुणे में अपनी प्रेस कांफ्रेंस को रद्द करना पड़ा था। कांग्रेस कार्यकर्ताओं के होटल की लॉबी में विरोध प्रदर्शन के चलते इस पीसी को रद्द करना पड़ा था।

इसे भी पढ़ें- मॉडल के पीछे खड़े हो फोटोग्राफर ने कर दी ऐसी हरकत, खुलकर बता भी नहीं पा रही

आपातकाल पर आधारित फिल्म

गौरतलब है कि इंदू सरकार फिल्म 21 महीने तक चले आपातकाल पर आधारित है, जिसे इंदिरा गांधी के कार्यकाल में 1975 से 1977 के बीच लगाया गया था। फिल्म के ट्रेलर के रीलीज होने के बाद कांग्रेस ने सीबीएफसी से इस फिल्म को पास करने से पहले इसकी समीक्षा की मांग की थी। जिसके बाद कांग्रेस नेता संजय निरूपम ने सेंसर बोर्ड के मुखिया पहलाज निहलानी को एक पत्र लिखा था जिसमें उन्होंने इस बात की मांग की थी कि फिल्म को रीलीज होने से पहले देखना चाहते हैं, ताकि हम देख सके के कांग्रेस के दिग्गज नेताओं को गलत तरीके से इस फिल्म में तो नहीं दिखाया गया है। हालांकि मधुर भंडारकर ने इस तरह की मांग को सिरे से खारिज कर दिया था।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Indu Sarkar director Madhur Bhandarkar given security by Mumbai police. Congress workers have protested against the film.
Please Wait while comments are loading...