#KashmirUnrest: एक्‍शन में इंडियन आर्मी, माहौल संभालने के लिए शुरू ऑपरेशन

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

श्रीनगर। घाटी में माहौल शांत होने का नाम नहीं ले रहा है और स्थिति दिन पर दिन और तनावपूर्ण होती जा रही है। अब इंडियन आर्मी स्थिति को संभालने के लिए एक्‍शन में आ गई है। आर्मी की ओर से चुपचाप एक ब्रिगेड को साउथ कश्‍मीर के लिए रवाना कर दिया गया है। घाटी के माहौल को सुधारने के लिए आर्मी ने 'ऑपरेशन कामडाउन' की शुरुआत की है।

indian-army-in-action-in-kashmir.jpg

पढ़ें-भारत ने यूएनसे कहा, पीओके और जम्‍मू कश्‍मीर में कोई तुलना नहीं

घाटी में जंगल राज की कोशिशें

पिछले दिनों आईं कुछ इंटेलीजेंस रिपोर्ट में आर्मी को पता चला था कि घाटी में एक तरह के 'जंगल राज' को कायम करने की कोशिशें हो रही हैं।

आर्मी का मकसद कश्‍मीर में पिछले दो माह से जारी प्रदर्शनों को बंद करना और आतंकियों का सफाया करना है।

इसमें आतंकियों और उनसे हमदर्दी रखने वाले लोग माहौल को बिगाड़ने में लगे हुए हैं। इस वजह से यहां पर विरोध प्रदर्शन जारी हैं, सड़कों को ब्‍लॉक किया जा रहा है और हिंसा को बढ़ावा मिल रहा है।

पढ़ें-कहां से आया है कर्फ्यू, कौन देता है आदेश, सबसे पहले कहां लगा?

बल प्रयोग करने का आदेश

आर्मी की ओर से 4,000 अतिरिक्‍त बलों को सामान्‍य स्थिति बहाल करने के मकसद से कश्‍मीर के लिए रवाना कर दिया गया है। लेकिन इसके साथ ही जवानों को कम से कम बल प्रयोग करने का आदेश भी आर्मी की ओर से दिया गया है। एक अधिकारी की ओर से इसकी पुष्टि कर दी गई है।

चार जिलों में मौजूद है आर्मी

ट्रूप्‍स को साउथ कश्‍मीर के पुलवामा, शोपियां, अनंतनाम और कुलगाम के लिए रवाना किया गया है। साउथ कश्‍मीर के ये ऐसे चार जिले हैं जहां पर हिबजुल कमांडर बुरहान वानी की मौत के बाद से सबसे ज्‍यादा हिंसा हुई है। वानी साउथ कश्‍मीर का ही रहने वाला था।

पढ़ें-जानिए क्‍या है हुर्रियत कॉन्‍फ्रेंस, कश्‍मीर के लिए क्‍या है इसका मकसद

सीआरपीएफ और पुलिस कर रही मदद

इन ट्रूप्‍स को सीआरपीएफ की मदद मिल रही है और साथ ही राज्‍य पुलिस भी गश्‍त के दौरान इनके साथ मौजूद है।

सड़कों पर प्रदर्शनकारियों ने जगह-जगह पेड़ गिराकर उन्‍हें बंद कर दिया गया है, इन पेड़ों को हटाया जा रहा है। इसके अलावा बिजली के खंभों को सही किया जा रहा है और जली हुई गाड़‍ियों को हटाया गया।

बकरीद के दौरान आर्मी शांत

पुलवामा के करीमाबाद इलाके को साफ करने के बाद ट्रूप्‍स शोपियां और कुलगाम में पहुंचे हैं। बकरीद की वजह से इस प्रक्रिया में थोड़ी बाधा आई है। सूत्रों के मुताबिक इसे जल्‍द ही फिर से शुरू किया जाएगा।

आर्मी की ओर से इस प्रक्रिया को बकरीद के बाद शुरू करने का फैसला उस समय लिया गया जब इंटेलीजेंस रिपोर्ट में यह दावा किया गया कि कश्‍मीर के युवाओं के पास डंडों के अलावा पत्‍थर और पेट्रोल बम हैं।

पढ़ें-लश्‍कर आतंकी ने कश्‍मीर में शूट किया है डराने वाला वीडियो

साउथ कश्‍मीर में 100 आतंकी

युवाओं ने जवानों को नेशनल हाइवे पर निशाना बनाने की तैयारी कर ली थी। साथ ही वे श्रीनगर की ओर से जाने वाले लोगों को भी अपने घरों से न निकलने को कह रहे थे।

ऐसी रिपोर्ट्स हैं कि वानी की मौत के बाद से करीब 100 आतंकी सीमा पार कर साउथ कश्‍मीर में आ पहुंचे हैं। जिन इलाकों में उनके छिपे होने की आशंका है उनमें शोपियां, पुलवामा, कुलगाम और अनंतनाग के कई इलाके शामिल हैं।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Indian army starts Operation Calm Down in Kashmir and send 4000 additional troops to valley.
Please Wait while comments are loading...