डोकलाम विवाद: अमेरिका के साथ मिलकर चीन को ऐसे 'मिर्ची' लगाएगा भारत

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। डोकलाम के मुद्दे पर भारत और चीन के बीच जुबानी जंग जारी है। इस बीच भारतीय सेना ने सितंबर में अमेरिकी सेना के साथ संयुक्त युद्ध अभ्यास की योजना बनाई है। पिछले महीने ही बंगाल की खाड़ी में भारतीय नौसेना ने जापान के साथ संयुक्त रूप से मालाबार नौसैनिक युद्ध अभ्यास किया था। इसके बाद अब भारतीय सेना ने अपने विरोधियों से मुकाबले के लिए अमेरिकी सेना के साथ संयुक्त युद्धाभ्यास की रणनीति बनाई है।

सितंबर में युद्ध अभ्यास का कार्यक्रम

चीन के जुबानी हमलों के बीच भारत की खास तैयारी

चीन के जुबानी हमलों के बीच भारत की खास तैयारी

भारत के खिलाफ जिस तरह से चीन पिछले करीब डेढ़ महीने से लगातार विवादित बयान दे रहा है और डोकलाम से सेना हटाने की मांग कर रहा है, उसको लेकर भारत की ओर से भी चीन को करारा जवाब दिया जा रहा है। ऐसे हालात में चीन जिस तरह से आक्रामकता और रणनीतिक तौर एशिया-प्रशांत इलाके में अपनी विस्तारवादी रणनीति को आगे बढ़ा रहा है इसके विरोध को लेकर भारत भी खास रणनीति बनाने में जुट गया है। चीन की परवाह नहीं करते हुए भारत अब अमेरिका के साथ द्विपक्षीय सैन्य अभ्यास को बढ़ाने जा रहा है। दोनों देशों के योजना रणनीतिक साझेदारी को मजबूती देने की है।

Indian tank wins, Chinese tank Fails the battle in tank biathlon । वनइंडिया हिंदी
मालाबार के बाद एक और युद्ध अभ्यास का कार्यक्रम

मालाबार के बाद एक और युद्ध अभ्यास का कार्यक्रम

टीओआई में छपी रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका के रक्षा और राज्य विभाग ने अपनी संयुक्त रिपोर्ट में कहा है कि हम भारत को रणनीतिक तौर पर एक महत्वपूर्ण क्षेत्रीय सहयोगी के रूप में देखते हैं। इसमें कहा गया है कि भारत-एशिया-प्रशांत क्षेत्र से अलग हम भारत को एक अहम क्षेत्रीय सुरक्षा सहयोगी के रूप में देखते हैं।

पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप की मुलाकात का असर

पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप की मुलाकात का असर

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जून में अमेरिका के दौरे पर गए थे, जब उनकी अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप से खास मुलाकात हुई थी। इस दौरान दोनों राष्ट्राध्यक्षों ने भारत-अमेरिका के बीच रणनीतिक संबंधों को मजबूती देने की बात कही थी। वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि निश्चित तौर पर कुछ आशंकाएं थीं, लेकिन द्विपक्षीय रक्षा और सुरक्षा सहयोग को आगे ले जाने के लिए कई बुनियादी सिद्धांत जरूरी हैं।

14 सितंबर से 27 सितंबर के बीच संयुक्त युद्ध अभ्यास का कार्यक्रम

14 सितंबर से 27 सितंबर के बीच संयुक्त युद्ध अभ्यास का कार्यक्रम

बता दें कि भारत और अमेरिका सेना का संयुक्त युद्धाभ्यास 14 सितंबर से 27 सितंबर के बीच अमेरिका के युनाइटेड बेस लुईस-मैककॉर्ड में होगा। जानकारी के मुताबिक गोरखा राइफल्स के 200 से ज्यादा भारतीय सैनिक इस युद्ध अभ्यास में हिस्सा लेंगे।

इसे भी पढ़ें:- स्कूलों में योग अनिवार्य करने की मांग वाली याचिका सुप्रीम कोर्ट ने की खारिज

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
India and US now conduct 'Yudh Abhyas' joint exercise between their armies in September.
Please Wait while comments are loading...