पाक के 22 दूतों पर बोला भारत- गलत बात 22,000 बार दुहराने पर सच नहीं हो जाती

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। कश्मीर के मुद्दे पर विश्व बिरादरी की ओर से निराशा हासिल कर चुके पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने फैसला किया था कि वे 22 सांसदों को अलग-अलग देशों में राजदूत बना कर भेजेंगे जो कश्मीर की तस्वीर पेश करेंगे।

नवाज की नई चाल, कश्‍मीर मुद्दा उठाने के लिए 22 राजदूत तैयार

mj akbar

इस मुद्दे पर भारत की ओर से भी जवाब आ गया है।

विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर ने कहा है कि गलत बात को यदि 22 लोग , 22 बार या 22,000 बार दुहराएं तो वह बात सच नहीं हो जाती।

उन्होंने कहा कि यह पाकिस्तान का अपना हक कि यदि वो चाहते हैं कि उनके सांसद मुफ्त में टूरिज्म पर जाएं। 

कश्मीर के मुद्दे पर अकबर ने कहा कि जहां तक कश्मीर की बात है यह द्विपक्षीयम मुद्दा है और पाकिस्तान को इसे अंतरराष्ट्रीय नहीं बनाना चाहिए।

ये है मामला

गौरतलब है कि रेडियो पाकिस्तान के हवाले से खबर है कि नवाज शरीफ 22 सांसदों को राजदूत बना कर दुनिया के सामने कश्मीर की तस्वीर पेश करें जो लोगों की अंतरात्मा झकझोर दे।

बलूचिस्तान के लोगों ने जर्मनी में लगाए लॉन्ग लिव मोदी के नारे

रेडियो पाकिस्तान के अनुसार नवाज संयुक्त राष्ट्र संघ को यह याद दिलाएंगे कि किस तरह से कश्मीर के लोगो से किए गए वायदे अब तक अधूरे हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
MJ Akbar, MoS MEA said It is Pakistan's individual right if it wants its MPs to go for free tourism.
Please Wait while comments are loading...