अब सावधान रहे चीन क्‍योंकि भारत-US के बीच 145 हॉवित्सर तोपों की डील हो गई फाइनल

पांच हजार करोड़ रुपए की इस डील को हाल ही में सीसीएस यानी कैबिनेट कमेटी ऑन सिक्युरिटी ने मंजूरी दी थी। भारत और अमेरिका के बीच दो दिन चलने वाली मिलिट्री को ऑपरेशन ग्रुप (एमसीजी) में इस डील पर मुहर लगी।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। चीन अब को अब जरा सावधान रहने की जरूरत है क्‍योंकि भारत ने अमेरिका के साथ हल्की 145 M 777 हॉवित्जर तोप खरीदने की डील कर ली है। ये डील 5 हजार करोड़ रुपए में हुई। बताया जा रहा है कि यह तोप चीन के मोर्चे पर तैनात रहेगा। न्‍यूज एजेंसी पीटीआइ के मुताबिक भारत ने बुधवार को हॉवित्जर डील के लिए 'लेटर ऑफ एक्सेपटेंस' साइन कर दिया।
#NagrotaTerrorAttack ये हैं नगरोटा के सात बहादुर शहीद 

India-US sign Rs 5,000 cr deal for 145 M777 howitzer guns

पांच हजार करोड़ रुपए की इस डील को हाल ही में सीसीएस यानी कैबिनेट कमेटी ऑन सिक्युरिटी ने मंजूरी दी थी। भारत और अमेरिका के बीच दो दिन चलने वाली मिलिट्री को ऑपरेशन ग्रुप (एमसीजी) में इस डील पर मुहर लगी। इस मीटिंग के लिए अमेरिका के 260 डिफेंस अफसर भारत आए हैं। भारत की तरफ से भी हाई लेवल आर्मी डेलिगेशन शामिल हुआ।

बोफोर्स के बाद पहला सौदा

1980 के दशक में हुए बोफोर्स घोटाले के बाद से तोपों की खरीद के लिए यह पहला सौदा है। उल्‍लेखनीय है कि 30 साल पहले भारत ने स्वीडन से बोफोर्स तोपें खरीदी थीं। इस डील में कमीशन को लेकर काफी विवाद हुआ था। इसके बाद से भारत और अमेरिका के बीच तोप डील पर बातचीत होती रही थी लेकिन किसी नतीजे पर नहीं पहुंचा जा सका था।

क्‍या खास है इस तोप में

  • हॉवित्जर तोपें दूसरी तोपों के मुकाबले बेहद हलकी हैं। 
  • इसे एक जगह से दूसरी जगह बिल्कुल साधारण तरीके से पहुंचाया जा सकता है। 
  • इसके अलावा इन्हें ऑपरेट करना भी बेहद आसान है। 
  • इनको बनाने में टाइटेनियम का इस्तेमाल किया गया है। 
  • यह 25 किलोमीटर दूर तक बिल्कुल सटीक तरीके से टारगेट हिट कर सकती हैं। 
  • हॉवित्जर M777 का वजन सिर्फ 4,200 किलोग्राम है। 
  • इंडियन आर्मी जिन बोफोर्स तोपों का इस्तेमाल कर रही है उनमें हर एक का वजह 13,100 किलोग्राम है। 
  • वजन और मारक क्षमता के लिहाज से ये दुनिया की सबसे कारगर तोप मानी जाती है। 
  • यही वजह है कि अमेरिका ने इसे सिर्फ कनाडा, ऑस्ट्रेलिया के बाद इसे भारत को बेचने का फैसला किया है। 
  • ये 20 से 50 किलोमीटर के टारगेट को आसानी और पूरी सटीकता से हिट कर सकती है। 
  • इसे टारगेट के एल्टीट्यूड (ऊंचाई) के हिसाब से फिक्स किया जा सकता है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
India has signed a deal with the US for importing 145 M777 lightweight Howitzers for the Indian Army today. The deal will cost Rs 5,000 crore.
Please Wait while comments are loading...