चीन ने फिर की भारतीय सीमा में घुसपैठ, अरुणाचल प्रदेश में 45 किमी अंदर तक आए उसके सैनिक

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। चीनी सैनिकों ने फिर घुसपैठ की है। लद्दाख सेक्टर के बाद चीनी सैनिक भारतीय सीमा में अरुणाचल प्रदेश स्थित किसी दूरदराज के इलाके में 45 किलोमीटर अंदर आए थे।

china

शुरूआती रिपोर्ट्स के अनुसार अंजॉव जिले में 40 से ज्यादा चीनी सैनिक ने प्लम पोस्ट बनाई। रिपोर्ट में यह बात कही गई है कि चीनी सैनिकों ने भूभाग पर अपने दावा करने के लिए अस्थाई पोस्ट बनाई।

सुषमा स्वराज की 10 बातें, जो चुभती रहेंगी पाकिस्तान को

तब हुई जानकारी

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार इस घुसपैठ की जानकारी इंडो तिब्बतन बॉर्डर पुलिस फ़ोर्स (ITBP) और सेना के संयुक्त दल को 9 सितंबर को हुई। जिसके बाद बैनर अभ्यास किया गया।

हालांकि, चीनी सैनिक उस क्षेत्र को छोड़ना नहीं चाह रहे थे और यह दावा भी किया यह जगह उनकी है।

बुश को गले लगा रहीं मिशेल की यह तस्‍वीर देखी आपने

सूत्रों के अनुसार प्लम पोस्ट पर चीनी सैनिक हर साल कम से कम दो तीन बार घुसपैठ करने का प्रयास करते हैं लेकिन यह ऐसा पहला मौका जब वो इस क्षेत्र में आए हैं।

सूत्रों ने बताया इस क्षेत्र में घुसपैठ करने वाले कुछ चीनी सैनिक तो 13 तारीख को चले गए लेकिन बाकी बचे हुए 14 तारीख को हुई फ्लैग मीटिंग के बाद वापस गए।

1 अक्टूबर को होगी बैठक

UNGA में भाषण के बाद बलूचों ने दिया सुषमा को बहन का दर्जा, लगाए भारत माता जय के नारे

सूत्रों ने इस बात की जानकारी भी दी कि चीनी सैनिकों की घुसपैठ की कोशिशों को पूरी तरहसे खत्म करने के लिए भारत और चीन की बैठक आगामी 1 अक्टूबर को फिर से होगी।

बताया गया कि चीनी सैनिको को प्लम पोस्ट तक का रास्ता घने जंगलों से तय करना पड़ता है। वहीं भारतीय सैनिक इसका बड़ा हिस्सा जीप और ट्रक से तय कर लेते हैं। उन्हें कुछ ही दूर पैदल चलना होता है।

बता दें कि इससे पहले चीनी सैनिको ने अरुणाचल प्रदेश के तवांग जिले में घुसपैठ की थी, जहां से उन्हें वापस भेज दिया गया था। बताया जा रहा है कि इस बार हुई घुसपैठ सितंबर महीने के शुरूआत में की गई थी।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Incursion by Chinese troops reported in Arunachal Pradesh.
Please Wait while comments are loading...