सोने के सिक्के खोजने में जुटे हजारों ग्रामीण, पुलिस की आफत

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

टोंक। राजस्थान के टोंक में चौथी और पांचवीं शताब्दी के पुराने सोने के सिक्के मिलने की खबर के बाद हर कोई इसकी तलाश में सड़क पर उतर आया है। हजारों ग्रामीण सोने की तलाश में जमा होने लगे हैं, जिसके बाद पुलिस को अपनी गश्त बढ़ानी पड़ गई है।

gold

पुलिस की अपील वापस कर दो सिक्के

जिस जगह पर सोने के सिक्के होने की बात कही जा रही है वह इलाका पानी से भरा हुआ है। बावजूद इसके पिछले एक हफ्ते से हर रोज लोग इसके लिए इकट्ठे हो रहे थे। लेकिन अब माहौल बिल्कुल बदल गया है, अब पुलिस गाड़ियों पर लाउडस्पीकर लगाकर गश्त लगा रही है और लोगों से अपील कर रही है कि वह इन सिक्कों को वापस कर दे।

सोने के दामों में गिरावट जारी, चांदी भी फिसली

पुलिस लाउडस्पीकर पर ऐलान कर रही है कि सभी ग्राम वासियो को सूचित किया जाता है कि सिक्कों को वापस कर दें, जो लोग ऐसा नहीं करते हैं उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई कर रही है। पुलिस का कहना है कि ये सिक्के काफी कीमती हैं।

जानकारी के अनुसार दो सिक्कों को 7 दिसंबर को एक ज्वेलरी की दुकान से बरामद कर लिया गया है। जिसके बाद पुलिस ने जयपुर मे पुरातत्व विभाग की टीम से इस सिक्के की कीमत का आंकलन करने को कहा है

गुप्त काल के हैं सिक्के

एएसआई के वैज्ञानिक मनोज कुमार द्विवेदी और अनिल तिवारी ने बताया कि दो सिक्के पाए गए हैं व समुद्रगुप्त (335-380AD) और कुमारगुप्त प्रथम (414-485 AD) के समय का है, यह सिक्का जानकीपुरा में पाया गया है।

पढ़ें-भविष्य कैशलेस है, पर आपका पैसा बढ़ना भी जरूरी है

1946 में भी मिले थे सिक्के

पुरातत्व की टीम को शक है कि किसी ने इन सिक्कों को गाड़ दिया होगा। इससे पहले 1946 में भी इसी तकरह के गुप्त काल के 1821 सिक्के बयाना शहर में पाए गए थे। दिग्गी पुलिस स्टेशन के एसएचओ प्रेम सिंह नथावत का मानना है कि ग्रामीण तकरीबन 2000 सिक्के ले गए हैं।

पुलिस का दावा, वापस मिलेंगे सिक्के

प्रेम सिंह का कहना है कि मेरा भरोसा कीजिए मैं एक-एक सिक्का वापस ले आउंगा, मेरे रिटायरमेंट को एक साल ही बचा है लेकिन मैं चाहता हूं कि मेरे साथी इस काम को करके प्रमोशन हासिल करें।

इलाके की एसपी प्रीति जैन का कहना है कि ग्रामीणों को यह सिक्का वापस करा होगा, ये सिक्के सरकार के हैं। जो लोग सिक्के वापस नहीं करते हैं हम उनके खिलाफ कार्रवाई करेंगे।

घर-घर में छापेमारी शुरु

जिस जगह पर सिक्के पाए गए थे वहां अब पांच सिपाहियों को तैनात किया गया है ताकि और लोग इन सिक्कों की तलाश में यहां नहीं आए। पिछले कई दिनों से पुलिस इन सिक्कों के लिए छापेमारी कर रही है और अभी तक कुल 9 सिक्के मिल सके हैं।

वहीं इस मामले में यहां के डीएम सूबे सिंह यादव का कहना है कि उनकी जानकारी में यह मामला जल्दी ही आया है, जिसके बाद उन्होंने अधिकारियों को कानून व्यवस्था बनाए रखने का निर्देश दिया था।

स्थानीय लोगों का आरोप

स्थानीय लोगों का कहना है कि पुलिस ने अपनी कार्रवाई बहुत देर से की है, सोने की तलाश अक्टूबर माह में शुरु हुई थी। इस जगह पर कई लोगों ने सिक्के की तलाश की थी, यहां तक कि कुछ व्यापारियों ने यहां बकायदा स्टाल लगाया था और लोगों को चाय और खाने का भी स्टाल लगाया था और सिक्का ढूंढ़ने वालों को इनाम भी दिया जा रहा था, ऐसे में यह सब पुलिस की नजर से कैसे बच सकता है।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
In Rajasthan thousands are searching gold police wants them to return. Around 1821 ancient gold coins have been taken by the villagers.
Please Wait while comments are loading...