4 साल बाद 5 घंटे में कैसे हुई नीतीश कुमार की एनडीए में घरवापसी

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। बिहार में बुधवार की शाम हर रोज से बिल्कुल अलग थी, शाम तकरीबन छह बजे जब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार यादव राज्यपाल केशरी नाथ त्रिपाठी के आवास पर जाने के लिए निकले तो इस बात की अटकलें लगने लगीं कि नीतीश कुमार अपने पद से इस्तीफा देने जा रहे हैं। पिछले 20 दिनों से जिस तरह से बिहार के महागठबंधन के बीच विवाद चल रहा था, उसके बाद नीतीश कुमार के इस फैसले को आश्चर्य की तरह से नहीं देखा जा सकता है।

इसे भी पढ़ें- अगर भाजपा के साथ गए नीतीश तो क्या होगा लालू का प्लान B

शाम को तकरीबन 6.30 पर दिया इस्तीफा

शाम को तकरीबन 6.30 पर दिया इस्तीफा

शाम को तकरीबन छह बजे जब नीतीश का काफिल राजभवन पहुंचा तो मीडिया में यह खबर आ गई थी कि नीतीश इस्तीफा देने जा रहे हैं, लेकिन आधे घंटे के बाद जब तकरीबन 6.30 बजे नीतीश कुमार खुद मीडिया के सामने आए और उन्होंने तमाम अटकलों पर विराम लगाते हुए इस बात का ऐलान किया कि वह मुख्यमंत्री के पद से इस्तीफा दे रहे हैं तो बिहार की राजनीति में भूचाल आ गया।

Nitish Kumar आज 10 बजे लेंगे शपथ, BJP का मिला समर्थन । वनइंडिया हिंदी
पीएम मोदी ने ट्वीट करके दी बधाई

पीएम मोदी ने ट्वीट करके दी बधाई

नीतीश के इस्तीफे के बाद ना सिर्फ राजनीतिक बयानबाजी का दौर तेज हुआ बल्कि खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करके नीतीश कुमार को भ्रष्टचार की लड़ाई में शामिल होने की बधाई थी। यही नहीं नीतीश कुमार ने पीएम मोदी को ट्वीट करके उनका शुक्रिया भी अदा कर दिया। यही नहीं कुछ ही देर बाद बिहार भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी ने मीडिया के सामने नीतीश कुमार को समर्थन देने का ऐलान कर दिया।

लालू ने नीतीश को बताया हत्या का आरोपी

लालू ने नीतीश को बताया हत्या का आरोपी

इस पूरे घटनाक्रम को होने में एक घंटे का समय लगा और ठीक इसके बाद बाद लालू प्रसाद यादव ने मीडिया के सामने आकर नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला। लालू ने नीतीश कुमार पर भाजपा के इशारों पर काम करने का आरोप लगाते हुए कहा कि नीतीश पर हत्या का आरोप है। यही नहीं उन्होंने कहा कि बिहार में आरजेडी सबसे बड़ी पार्टी है, लिहाजा वह सरकार बनाने का दावा पेश करेगी।

कांग्रेस ने जाहिर की निराशा

कांग्रेस ने जाहिर की निराशा

इस पूरे घटनाक्रम के एक घंटे बाद तकरीबन 8 बजे महागठबंधन की सहयोगी कांग्रेस ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए नीतीश के इस्तीफे पर निराशा जाहिर की। कांग्रेस के नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि महागठबंधन को बिहार की जनता ने पांच साल के लिए अपना बहुमत दिया था और कांग्रेस इस महागठबंधन को बचाने की कोशिश करेगी।

भाजपा ने किया समर्थन का ऐलान

भाजपा ने किया समर्थन का ऐलान

एक घंटे बीतने के बाद भाजपा ने इस बात का ऐलान कर दिया कि वह नीतीश कुमार का समर्थन करने के लिए तैयार है और वह नीतीश कुमार के साथ मिलकर बिहार में अगली सरकार बनाएगी। जिसके बाद भाजपा और जदयू के नेताओं की बैठक हुई, जिसमें नीतीश कुमार ने तमाम नेताओं को संबोधित किया। इस बैठक में तमाम भाजपा के नेता भी मौजूद थे, जिसके बाद विधायकों के समर्थन का पत्र राज्यपाल के पास भेजा गया।

शाम को लेंगे मुख्यमंत्री पद की शपथ

शाम को लेंगे मुख्यमंत्री पद की शपथ

रात तकरीबन 11 बजे तक इस बात की पुष्टि हो चुकी थी कि नीतीश कुमार आज शाम को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। इसके साथ ही दोनों दलों के तकरीबन 13-13 मंत्री बनने पर भी सहमति बन गई । यही नहीं इस बात के भी कयास लगाए जा रहे हैं कि सुशील मोदी इस सरकार में उपमुख्यमंत्री होंगे।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
How within 5 hour Bihar politics completely changed. Nitish resigned and soon after he got the support of BJP.
Please Wait while comments are loading...