डॉक्टरों ने महिला को ऑक्सीजन की जगह दी लॉफिंग गैस, 28 लाख का जुर्माना

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

चेन्नई। तमिलनाडु के मदुरै में स्थित मद्रास हाई कोर्ट की बेंच ने एक बड़ा फैसला सुनाया है। कोर्ट ने सरकारी अस्पताल में एक महिला को ऑक्सीजन की जगह लॉफिंग गैस दिए जाने पर राज्य सरकार पर 28.37 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है।

woman

मामले की सुनवाई के दौरान कोर्ट को बताया गया कि अस्पताल की लापरवाही की वजह से साल 2012 में इलाज के दौरान महिला की मौत हो गई थी। 34 वर्षीय रुकमणि असरीपल्लम स्थित मेडिकल कॉलेज में भर्ती थी।

पढ़ें: भारत-वियतनाम के बीच हुए 12 अहम समझौतों पर एक नजर

कोर्ट ने कहा- सरकार मुआवजा देने के लिए बाध्य

साल 2013 में रुकमणि के पति एस. गणेशन ने कोर्ट में याचिका दी और 50 लाख रुपये का मुआवजा मांगा। केस सुनने के बाद कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए कहा, 'तथ्यों से पता चलता है कि अस्पताल ने ऑक्सीजन की जगह महिला को नाइट्रस ऑक्साइड दिया था। इस लापरवाही में डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ भी शामिल है, जिसकी वजह से याचिकाकर्ता की पत्नी की मौत हुई। इसलिए राज्य सरकार को हर हाल में मुआवजा देना पड़ेगा।'

कोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि राज्य के स्वास्थ्य सचिव याचिकाकर्ता को हर साल के 9 फीसदी ब्याज के हिसाब से एक हफ्ते में सारा पैसा दें।

पढ़ें: पूर्व CM हुड्डा और उनके करीबियों के 20 ठिकानों पर CBI की रेड

नसबंदी के लिए कराया गया था भर्ती

बता दें कि रुकमणि को 18 मार्च 2011 में अस्पताल में नसबंदी के लिए भर्ती कराया गया था। अस्पताल में नाइट्रस ऑक्साइड (लॉफिंग गैस) दिए जाने की वजह से उसके शरीर में खून की कमी आ गई। बाद में दो अलग-अलग अस्पतालों में भी उसका इलाज कराया गया, लेकिन मई 2012 में उसकी मौत हो गई।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Hospital staff gave laughing gas for oxygen to woman govt to pay 28 lakh in tamilnadu. Woman was died in may 2012.
Please Wait while comments are loading...