अगर 'सर्जिकल स्ट्राइक' हुई होती तो मिलता मुंह तोड़ जवाब: पाकिस्तान

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। एक बार फिर से पाकिस्तान ने अपना पुराना राग अलापते हुए कहा कि इंडिया की ओर से कोई 'सर्जिकल स्ट्राइक' नहीं हुई थी और अगर ऐसा सच में हुआ होता तो भारत को मुंह तोड़ जवाब दिया गया होता।

'द इंडियन एक्सप्रेस' का दावा सरकार नहीं देगी 'सर्जिकल स्ट्राइक' के सबूत

टीवी टूडे को दिए गए इंटरव्यू में पाकिस्तानी उच्चायुक्त अब्दुल बासित ने भारतीय सेना पर सीमापार से फायरिंग करने का आरोप लगाते हुए कहा कि यह 'सर्जिकल स्ट्राइक'नहीं, बल्कि सीजफायर का उल्लंघन था, भारत जबरदस्ती अपनी पीठ थपथपा रहा है।

कौन था 'जटायु', जिसने लड़ी थी आतंकवाद के खिलाफ पहली जंग?

बासित ने तो पाकिस्तानी सेना विशेषज्ञ आएशा सिद्दिका की ओर से 'सर्जिकल स्ट्राइक' की पुष्ट‍ि किए जाने के दावे को भी सिरे से खारिज कर दिया और कहा कि भारतीय सरकार इस बात का सबूत पेश करे, अरे जो चीज हुई ही नहीं भला उसका सबूत कहां से आएगा। उन्होंने एक भारतीय टेलीविजन चैनल से पाकिस्तान पुलिस के एक अधिकारी की बातचीत के सवाल को भी बेकार करार दिया।

सबका नुकसान है

पाकिस्तान में पिछले महीने आयोजित होने वाले सार्क सम्मेलन को रद्द करने के बारे में उन्होंने कहा कि यह सभी संबंधित देशों का नुकसान है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Pakistan High Commissioner to India today denied Indian Army's surgical strikes that destroyed terror launchpads.
Please Wait while comments are loading...