सरकार ने कहा- पाक कलाकारों पर कोई बैन नहीं

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। विदेश मंत्रालय प्रवक्ता विकास स्वरूप ने कहा है हाल ही में हुए ब्रिक्स सम्मेलन के दौरान आतंकवाद का सबसे कठोर भाषा में विरोध किया गया है। इससे पहले किसी भी ब्रिक्स सम्मेलन में ऐसा नहीं हुआ था।

vikash swarup

उन्होंने कहा कि गोवा डिक्लरेशन में 37 बार 'आतंक' और 'आतंकवाद' शब्द का इस्तेमाल किया गया है।

बीजेपी में आते ही रीता के निशाने पर आए राहुल और प्रशांत किशोर

स्वरूप ने कहा कि हम सभी जानते हैं कि कौन सा देश आंतकवाद का केंद्र है। उसी वक्त हमने चीन से भी आतंकवाद के मुद्दे पर संवाद और बातचीत की।

टीवी चैनल बैन करना दुर्भाग्यपूर्ण

पाकिस्तान में भारतीय टीवी चैनलों के बैन पर स्वरूप ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है और यह उनमें विश्वास की कमी को प्रदर्शित कर रहा है।

बीजेपी की तारीफ करने वाली रीता ने तब सुनाई थी पीएम तक को खरी-खोटी

स्वरूप ने कहा कि पाक कलाकारों के लिए कोई बैन नहीं है। दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन (सार्क) के मुद्दे पर स्वरूप ने कहा कि सार्क में हमारी दिलचस्पी बरकरार है लेकिन हमारी चिंता कनेक्टिविटी की है।

आतंक से मुक्त नहीं है माहौल

उन्होंने कहा कि व्यापार में सहयोग औ आतंकवाद से मुक्त माहौल वहां नहीं है।

खुदकुशी से पहले कबड्डी प्‍लेयर की पत्‍नी ने बयां किया था दर्द-ए-दिल, सुनिए आखिरी आवाज

सार्क से पाक को हटाए जाने के सवाल पर स्वरूप ने कहा कि हमारा मकसद नहाने के पानी से बच्चे को बाहर फेंकना नहीं है बल्कि हम चाहते हैं कि नहाने का पानी साफ हो।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Goa declaration contains the strongest ever language against terrorism amongst all past BRICS Summits: Vikas Swarup
Please Wait while comments are loading...