स्‍वामी का लिंग काटने वाली लड़की के ब्‍वॉयफ्रेंड का खुलासा, संघ ने दबाव डालकर बदलवाया बयान

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

तिरुवनंतपुरम। केरल में 23 साल की लॉ स्‍टूडेंट द्वारा कथित तौर पर बलात्‍कार की कोशिश करने के दौरान स्‍वामी श्रीहरि का लिंग काटे जाने के मामले में एक नया मोड़ आ गया है। पहले लड़की ने अपना बयान बदला और अब एक युवक ने केरल हाईकोर्ट में याचिका दाखिल कर सनसनी मचा दी है। कोल्‍लम के रहने वाले 35 साल के अय्यप्‍पा दास ने सोमवार को याचिका दायर कर कोर्ट से अनुरोध किया कि लड़की को छोड़ दिया जाए क्‍योंकि वो र्निदोष है। रोचक बात ये है कि ये वही अय्यप्‍पा दास है जिसने पहले लड़की और स्‍वामी के बीच संबंध होने की बात कही थी और फिर स्‍वामी को फंसाने के लिए जाल बुना था। ऐसा लड़की खुद अपने बयान में कह चुकी है।

क्‍या कहना है अय्यप्‍पा दास का

क्‍या कहना है अय्यप्‍पा दास का

अंग्रेजी वेबसाइट द न्‍यूज मिनट के मुताबिक अय्यप्‍पा दास पीडि़ता का ब्‍वॉयफ्रेंड है। उसने अपने याचिका में कहा है कि लड़की पर बयान बदलने का दबाव डाला गया था जिसके चलते उसने स्‍वामी के वकील को पत्र लिखा। अय्यप्‍पा ने यह भी दावा किया है कि चैनलों पर लड़की के बयान को तोड़मरोड़ कर दिखाया गया ताकि स्‍वामी को फायदा दिलाया जा सके। उसने कहा कि आरोपी को बचाने के लिए लड़की पर दबाव डाला जा रहा है कि वो अपने बयान से पलट जाए।

क्‍या लिखा था लड़की ने पत्र में

क्‍या लिखा था लड़की ने पत्र में

स्वामी के वकील को संबोधित एक पत्र में लड़की ने कहा था कि स्वामी ने कभी उसका रेप नहीं किया। ना ही तब जब मैं नाबालिग थी या तब जब 18 साल की हो गई थी। 16 और 17 साल की उम्र में मुझसे यौन उत्पीड़न का आरोप झूठा है और पुलिस की ओर से जोड़ा गया है।

अय्यप्‍पा के कहने पर ऐसा किया

अय्यप्‍पा के कहने पर ऐसा किया

पत्र में युवती ने इस बात से इनकार नहीं किया है कि वो 20 मई की रात स्वामी श्रीहरि का लिंग काटने के इरादे से चाकू लेकर गई थी और उसने अय्यप्पा दास के कहने पर ऐसा किया। इस पत्र में लिखा है कि अय्यप्पा दास ने स्वामी और महिला के रिश्ते ये कहकर खराब करवाए थे कि स्वामी उसके माता-पिता को लूट रहे हैं।

स्‍वामी जी रो पड़े और मैं भाग गई

स्‍वामी जी रो पड़े और मैं भाग गई

हाथ से लिखे पांच पन्नों के इस पत्र में लिखा है, 'लेकिन, सौभाग्यवश या दुर्भाग्यवश, मैंने वो नहीं किया जो मुझसे कहा गया था। स्वामीजी रो पड़े और मैं वहां से भाग गई।' पत्र में ये भी लिखा गया है कि अय्यप्पा दास के कहे अनुसार वो एडीजीपी बी संध्या के घर गईं जहां छह-सात बार घंटी बजाई लेकिन किसी ने दरवाजा नहीं खोला। फिर उसने 100 नंबर पर डायल किया और पुलिस आकर उसे पेथा पुलिस स्टेशन ले गई।

क्‍या था पूरा मामला

क्‍या था पूरा मामला

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जब हरिस्वामी ने लड़की का उसके घर में रेप करने की कोशिश की तब विरोध और बचाव में उसने आरोपी के प्राइवेट पार्ट्स चाकू से काट दिए। पुलिस के मुताबिक लड़की के पिता काफी सालों से बिस्तर पर हैं वहीं, मां श्रीहरि स्वामी को घर पर पूजा करवाने के बुलाती रहती थी। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। श्रीहरि स्वामी के खिलाफ पॉक्सो के तहत केस दर्ज किया गया है।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
A few days ago, there was a shocking development in the case where a young law student from Thiruvananthapuram, Kerala chopped off the penis of a self-styled godman, Sreehari alias Ganeshananda Theerthapada.
Please Wait while comments are loading...