सर्जिकल स्ट्राइक के 4 सूत्रधार, जिन्होंने लिया उरी के शहीदों का बदला

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। बुधवार की रात को मोदी ने अपने उस वादे को पूरा कर दिया, जो उन्होंने देश को लोगों से उरी आतंकी हमले के बाद किया था। मोदी ने वादा किया था कि जो भी इसके लिए दोषी हैं, उन्हें माफ नहीं किया जाएगा। बुधवार की रात 12.30 बजे से गुरुवार सुबह 4.30 बजे तक भारतीय सेना द्वारा पाकिस्तान में की गई सर्जिकल स्ट्राइक से मोदी का वो वादा पूरा हो गया।

जानिए क्‍या होता है सर्जिकल स्‍ट्राइक जिसे इंडियन आर्मी ने PoK में दिया अंजाम

सीमा में घुसकर किया हमला

सीमा में घुसकर किया हमला

यह सर्जिकल स्ट्राइक सीमा से करीब 2-3 किलोमीटर अंदर की तरफ की गई, जिसमें करीब 38 आतंकियों के मारे जाने की खबर है। इस सर्जिकल स्ट्राइक से आतंकियों के सात ठिकानों को निशाना बनाया गया, जहां भारत पर हमला करने की योजना बनाई जा रही थी।

मिलिए सर्जिकल स्‍ट्राइक्‍स के मास्‍टरमाइंड 'जेम्‍स बांड' अजित डोवाल से

पीएम नरेन्द्र मोदी

पीएम नरेन्द्र मोदी

पीएम मोदी इस सर्जिकल स्ट्राइक के लिए सबसे अहम भूमिका निभाने वाले व्यक्ति हैं, जिन्होंने दृढ़ इच्छा शक्ति के चलते पाकिस्तान में घुसकर आतंकियों को मारने की योजना को अंजाम देने की अनुमति दी।

उरी हमले पर भारत ने दिया पाकिस्तान को करारा जवाब, सीमा पार कर मारे आतंकी

जहां एक ओर इस सर्जिकल स्ट्राइक के लिए पीएम मोदी ने अहम भूमिका निभाई, वहीं दूसरी ओर तीन और लोग हैं, जिन्होंने पीएम मोदी को सर्जिकल स्ट्राइक की पूरी योजना बताई। इस योजना के सूत्रधारों में पीएम मोदी के अलावा रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर, एनएसए अजीत डोवाल और लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह थे। आइए जानते हैं कैसे इन सूत्रधारों ने निभाई अपनी भूमिका।

अजीत डोवाल

अजीत डोवाल

भारत की तरफ से पाकिस्तान में घुसकर की गई सर्जिकल स्ट्राइक का ताना-बाना बुनने का श्रेय अजीत डोभाल को जाता है। उन्होंने ही पूरी रणनीति बनाई कि आखिर किस तरह से सेना पाकिस्तान में घुसेगी और कैसे सर्जिकल स्ट्राइक को सफलता पूर्व अंजाम दिया जाना है।

युद्ध की आशंका के बीच सीमा पर बीएसएफ के जवानों ने शुरू किया गांव खाली कराने का काम

आपको बता दें कि म्यांमार में आतंकियों का सफाया करने की रणनीति के सूत्रधार भी अजीत डोवाल ही थे। उन्हीं के बंगले पर पूरी योजना बनाई गई थी। कीर्ति चक्र से सम्मानित अजीत डोवाल करीब 6 साल तक पाकिस्तान में एक अंडर कवर एजेंट यानी जासूस बनकर रह चुके हैं। ऐसे में वे पाकिस्तान की रग-रग से वाकिफ हैं और जानते हैं कि कैसे और कहां कार्रवाई करनी है।

मनोहर पर्रिकर

मनोहर पर्रिकर

इस सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम देने में देश के रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने भी अहम भूमिका निभाई। वह पूरी रात कंट्रोल रूम से सर्जिकल स्ट्राइक की जानकारी लेते रहे और जरूरत पड़ने पर जरूरी दिशा-निर्देश दिए।

सर्जिकल स्ट्राइक के बाद सोशल मीडिया पर जश्न, देखें लोगों ने क्या कहा

मनोहर पर्रिकर कितने निडर हैं, इसका पता इसी बात से चलता है कि आप उन्हें गोवा की सड़कों स्कूटर चलाते और बिना किसी सुरक्षा के ही किसी रेस्टोरेंट में चाय का मजा लेते देख सकते हैं।

लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह

लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह

भारत के डीजीएमओ लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह वह शख्स हैं, जिन्होंने इस पूरे ऑपरेशन को लीड किया। वे इस सर्जिकल स्ट्राइक की जानकारी रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर और एनएसए अजीत डोभाल को देते रहे।

उरी आतंकी हमलाा: पैरा कमांडोज, चार घंंटे और 38 आतंकियों का सफाया

जनरल रणबीर सिंह ने बताया कि जिन आतंकियों को इस सर्जिकल स्ट्राइक में मार गिराया गया है, वे सभी आतंकी हमले की योजना बना चुके थे। इसी के चलते इन सभी आतंकी ठिकानों की जानकारी इकट्ठा की गई और फिर सर्जिकल स्ट्राइक करके उन्हें नेस्तनाबूत कर दिया गया।

शहीदों को श्रद्धांजलि: कार्यक्रम में उड़ाए गए नोट, जमा हुए 1 करोड़ रुपए

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
four key people behind surgical strike
Please Wait while comments are loading...