पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी की बहू को लगानी पड़ी सब्जी की दुकान, 10 मिनट में बिका सामान

ऋचा ने कहा कि जनता की भलाई के लिए अब जोगी का सत्ता में आना जरूरी है। ताकि रमन सरकार के भ्रष्टाचार की पोल खुल सके और जनता को महंगाई की मार से राहत मिले।

Subscribe to Oneindia Hindi

रायपुर। छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री और पूर्व दिग्गज कांग्रेसी नेता अजीत जोगी की बहू ने जगदलपुर के संजय बाजार में सब्जी बेचना शुरू किया तो सब हैरान रह गए। उन्होंने सब्जी के दो स्टॉल लगाए थे। हर कोई यह जानना चाहता था कि पूर्व मुख्यमंत्री की बहू आखिरकार यह काम क्यों कर रही हैं।

Richa Jogi

दरअसल, अजीत जोगी की बहू ऋचा जोगी सोमवार को नोटबंदी और महंगाई के विरोध में मोदी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रही थीं और उन्होंने विरोध के लिए यह तरीका अपनाया। उन्होंने सब्जी के दो स्टॉल लगाए जिनमें से एक का नाम रमन सरकार था तो दूसरे का जोगी जनता।

रायपुर: सदर बाजार इलाके में एक बिल्डिंग में लगी आग, फायर ब्रिगेड की पांच गाड़ियां मौके पर

रमन सरकार वाले स्टॉल पर हर सामान महंगा मिल रहा था और जोगी जनता स्टॉल में हर सब्जी सस्ती थी। सस्ती सब्जियां बेचकर राज्य सरकार और केंद्र सरकार के खिलाफ विरोध दर्ज कराने का ये कार्यक्रम करीब 10 मिनट की चला।

PM मोदी के फैसले का दिखा असर, एक महीने में 564 नक्सलियों ने किया सरेंडर

इस तरह स्टॉल लगाकर ऋचा जोगी ने जनता को यह मैसेज देने की कोशिश की कि राज्य और केंद्र की बीजेपी सरकार महंगाई पर काबू करने में नाकाम है। इसके साथ ही नोटबंदी की वजह से आम आदमी को काफी परेशानियां झेलनी पड़ रही हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे प्रदर्शन पूरे प्रदेश में होंगे जिनमें सरकार का विरोध किया जाएगा।

पूरी तरह फिल्मी है कैशवैन लूट की ये कहानी, जो पुलिस के लिए भी बन गई सिरदर्द

ऋचा ने कहा कि जनता की भलाई के लिए अब जोगी का सत्ता में आना जरूरी है। ताकि रमन सरकार के भ्रष्टाचार की पोल खुल सके और जनता को महंगाई की मार से राहत मिले।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Former cm ajit jogi's daughter in law sold vegetables in protest against bjp govt.
Please Wait while comments are loading...