पहली बार राज्यसभा के चुनाव में वोटर्स के पास होगा नोटा का विकल्प

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। देश में चुनाव प्रणाली में एक बड़ा बदलाव उस वक्त आया था जब मतदाताओं को चुनावी मैदान मे किसी भी उम्मीदवार को मत नहीं देने का अधिकार यानि नोटा दिया गया था, जिसके बाद अगर मतदाताओं को कोई भी उम्मीदवार नहीं पसंद है तो वह नोटा का बटन दबा सकता है। लेकिन ऐसा पहली बार होगा जब राज्यसभा के चुनाव में भी लोगों को यह विकल्प मुहैया कराया जाएगा।

rajya sabha

गुजरात विधानसभा में इस बार राज्यसभा के उम्मीदवार के लिए जो चुनाव होंगे उसमें मतदाताओं के पास यह विकल्प होगा कि वह नोटा बटन का इस्तेमाल कर सके, अगर उन्हें कोई भी उम्मीदवार पसंद नहीं है तो वह नोटा बटन दबा सकते हैं। राज्यसभा चुनाव के लिए कांग्रेस अपने विधायकों के लिए व्हिप जारी कर सकती है, जिसमें शंकरसिंह वाघेला भी शामिल होंगे, जिन्होंने हाल ही में पार्टी से इस्तीफा दे दिया था। कांग्रेस व्हिप जारी करके इस बात की पुष्टि करना चाहती है कि अहमद पटेल को राज्यसभा भेजा जा सके।

इसे भी पढ़ें- कोई और नहीं, ये शख्स देगा 2019 में पीएम मोदी को चुनौती!

वहीं भाजपा ने राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को राज्यसभा भेजने का फैसला लिया है, उनके अलावा केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, बलवंत सिंह राजपूत को भी पार्टी ने राज्यसभा भेजने का फैसला लिया है, जबकि कांग्रेस की ओर से सिर्फ एक ही उम्मीद अहमद पटेल मैदान में हैं। गौरतलब है कि राज्यसभा चुनाव गुप्त मतदान के जरिए नहीं होता है, वोटर को अपना मत डालने से पहले पोलिंग एजेंट को दिखाना पड़ता है

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
First time NOTA option will be available in Rajya Sabh Election. Voter will be given an option to use NOTA.
Please Wait while comments are loading...