चीन को चुनौती देने की भारत के पास ताकत नहीं- फारुक अब्दुल्ला

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने केंद्र सरकार पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि भारत के भीतर चीन से लोहा लेने की शक्ति नहीं है। उन्होंने कहा कि भारत के भीतर इतनी शक्ति नहीं है कि वह चीन से चीन अधिकृत कश्मीर को वापस ले सके।

faooq abdullah

फारुक ने कहा कि लद्दाख में चीन ने अक्साई चिन पर कब्जा कर रखा है, हम इस बारे में चिल्लाते हैं, लेकिन हमारे पास इतनी ताकत नहीं है कि इसे वापस ले सके। उन्होंने कहा कि चीन से तनाव को खत्म करने का एक ही विकल्प है उससे मित्रता, क्योंकि युद्ध समाधान नहीं है।

भारत को अपनी कूटनीतिक रास्ते से इस मुद्दे का समाधान निकालना चाहिए, चीन पाकिस्तान का दोस्त है, लेकिन अगर हमने चीन से दोस्ती बरकरार रखी होती तो वह पाकिस्तान के दोस्त नहीं होते। फारुक अब्दुल्ला ने कहा कि चीन का लक्ष्य काराकोरम पास को बनाना है, जो उनके लिए काफी कारगर साबित होगा, यह रास्ता चीन द्वारा अधिकृत इलाके से होकर जाता है।

इसे भी पढ़ें- युद्धविराम के दोषी पाक ने डीजीएमओ स्‍तर की वार्ता में भारत को बताया चार सैनिकों की हत्‍या का दोषी

इसके अलावा दलाई लामा को एक मुद्दा बताते हुए कहा फारुक अब्दुल्ला ने कहा कि चीन चाहता है कि दलाई लामा भारत से बाहर जाएं, भारत को पता है कि कैसे किसी को शरण दें, किसी को भारत से ऐसे ही बाहर नहीं किया जा सकता है। आपको बता दें कि चीन और भारत के बीच सिक्किम में पिछले कुछ दिनों से सीमा विवाद चल रहा है और दोनों ओर से बयानों का दौर जारी है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Farooq Abdullah says India lacks power to challenge China. He says only friendly way is the solution with China.
Please Wait while comments are loading...