शहीद के पिता की बातें सुनकर गर्व से चौड़ा हो जाएगा आपका सीना

अपने लाल के जाने की खबर सुनने के बाद शहीद मनोज के पिता की आंखों में आंसू तो थे लेकिन हौंसला बिल्कुल नहीं टूटा।

Subscribe to Oneindia Hindi

गाजीपुर। भारतीय सेना के मुंहतोड़ जवाब देने के बावजूद पाकिस्तान अपनी नापाक करतूतों पर कायम है। देश के जवान सीमा पर मातृभूमि की रक्षा के लिए पूरी हिम्मत और बहादुरी के साथ डटकर पाक की हर हरकत का जवाब दे रहे हैं।

मंगलवार को जम्मू कश्मीर के माछिल सेक्टर में एलओसी पर पाकिस्तान की फायरिंग में शहीद हुए भारतीय सेना के जवान मनोज कुशवाहा की मौत की खबर जब उनके घर पहुंची तो परिवार एकदम टूट सा गया।

अपने लाल के जाने की खबर सुनने के बाद शहीद मनोज के पिता की आंखों में आंसू तो थे लेकिन हौंसला बिल्कुल नहीं टूटा।

पुंछ और माछिल सेक्‍टर आर्मी के लिए सिरदर्द, आतंकियों के लिए वरदान

शहीद मनोज के पिता ने कहा, 'गर्व है मेरे बेटे ने देश के लिए जान दी है।'

यूपी में गाजीपुर के रहने वाले मनोज कुशवाहा की शहादत से परिवार पर गम का पहाड़ टूटा है। रूंधे गले से पिता कहते हैं कि जब तक पाकिस्तान का मुद्दा खत्म नहीं होगा, जवान मरते रहेंगे।

वहीं, शहीद के परिवार के एक दूसरे सदस्य ने बताया कि मनोज 2-3 दिन में छुट्टी पर घर आने वाले थे, मुझसे टिकट के लिए भी कहा था, फिर ये खबर आ गई।

पाक ने फिर तोड़ा सीजफायर, बीएसएफ के तीन जवान घायल

आपको बता दें कि मंगलवार को जम्‍मू कश्‍मीर में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में सेना ने अपने तीन जवानों को खो दिया था। सबसे ज्‍यादा दुखद बात यह थी कि एक जवान के शव के साथ बर्बरता की गई और उसके शव को क्षत-विक्षत कर दिया गया था।

बुधवार सुबह से ही पाकिस्तान सीमा पर लगातार फायरिग कर रहा है। इस फायरिंग में बीएसएफ के तीन जवान घायल हो चुके हैं।

कैसे बार-बार जवानों के सिर काट कर जेनेवा संधि को तोड़ रहा है पाकिस्‍तान

भारतीय सेना भी पाकिस्तान की फायरिंग का मुंहतोड़ जवाब दे रही है। जम्मू कश्मीर के राजौरी जिले में लगातार फायरिंग हो रही है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
family members mourn the death of manoj kushwaha who was killed in action on LoC in Machhal sector of jammu kashmir.
Please Wait while comments are loading...