हीरा व्यापारी के 6 हजार करोड़ सरेंडर करने की खबर की ये है हकीकत

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। गुजरात के बडे हीरा कारोबारी लालजी पटेल ने इस खबर को अफवाह बताया है जिसमें कहा जा रहा था कि उन्‍होंने 6000 करोड़ के पुराने नोट सरेंडर किए हैं। लालजी पटेल ने कहा है कि वो एक हीरा व्‍यापारी हैं और सोशल मीडिया या फिर टीवी चैनलों पर 6000 करोड़ रुपए के कालेधन सरेंडर करने की जो खबरे चल रही हैं वो गलत हैं।

बेवफाई के इल्‍जाम पर सोनम गुप्‍ता ने दिया करारा जवाब, सोशल मीडिया पर वायरल 

Surat Businessman has surrendered Rs 6000 crore

गुजरात के एक स्थानीय चैनल से बातचीत में लालजी ने कहा कि यह सब बातें कोरी बकवास हैं। सोशल मीडिया में मुझे बिल्डर बताया जा रहा है लेकिन मैं एक हीरा व्यापारी हूं । मेरे नाम से चल रही खबरें झूठी और मनगढ़ंत हैं।

क्‍या फैली थी खबर

खबर फैली थी कि जाने-माने हीरा व्यापारी लालजी पटेल ने सरकार के सामने 6000 करोड़ रुपए रख के साथ ही 200 प्रतिशत के हिसाब से 5400 करोड़ रुपए टैक्स भरा है। इन 5400 करोड़ के टैक्स में इनकम टैक्स 1800 करोड़ रुपए हैं जबकि बाकी का 3600 करोड़ रुपए टैक्स पर जुर्माना राशी है। लालजी पटेल ने सरकार के खाते में ये पैसा जमाकर कालाधन के खिलाफ पीएम मोदी की मुहीम में अपना सहयोग दिया है।

कैसे सुर्खियों में आए लालजी पटेल

आपको बता दें कि लालजी पटेल वहीं व्यापारी है, जिन्होंने 4.31 करोड़ रुपए में पीएम मोदी की सूट खरीदा था। इतना ही नहीं बोनस के तौर पर अपने कर्मचारियो को कार और अपार्टमेंट बांटने वाले लालजी पटेल कई बार सूर्खियों में आ चुके हैं। लालजी पटेल मोदी के समर्थक माने जाते है। पीएम ने कदमों की सराहना करने वाले लालजी पटेल ने बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत देश की 10000 कन्याओं का चुनाव कर कन्या शिक्षा के लिए 200 करोड़ रुपए डोनेट किए थे। उन्होंने सभी 10000 लड़कियों को पढ़ाई के लिए 2 लाख रुपए दिए थे।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
Read in Gujarati:
English summary
According to Surat businessman Lalji Patel, his surrendered Rs.6000 Crore In Cash is rumor.
Please Wait while comments are loading...