पूर्व सैनिक खुदकुशी मामला: रामकिशन ग्रेवाल ने बैंक से लिया था 3.5 लाख का लोन!

पूर्व सैनिक राम किशन ग्रेवाल ने भिवानी के स्टेट बैंक ऑफ इंडिया से 3.5 लाख का लोन ले रखा था।

Subscribe to Oneindia Hindi

हरियाणा। पूर्व सैनिक राम किशन ग्रेवाल की मौत पर जमकर सियासत हो रही है। विपक्षी लोग सैनिक की मौत के लिए बीजेपी सरकार को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं, ऐसे में अब एक और चौंकाने वाली खबर सामने आयी है।

OROP : पूर्व सैनिक रामकिशन ने आत्‍महत्‍या से पहले बेटे से क्‍या कहा, सुनिए इस ऑडियो में

अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के मुताबिक राम किशन ग्रेवाल ने भिवानी के स्टेट बैंक ऑफ इंडिया से 3.5 लाख का लोन ले रखा था जिसके कारण वो काफी चिंतित रहते थे, उन्होंने ये लोन अपने पेंशन अकाउंट पर लिया था जिसके बारे में उनके परिवार को भी नहीं पता था।

घर में किसी को नहीं पता कि ग्रेवाल ने लोन लिया था

इस बारें मे उनके बेटे ने कहा कि हममें से किसी को पापा के लोन के बारे में नहीं मालूम, हालांकि उन्होंने ये जरूर कहा कि सरकार ठीक से ओआरओपी लागू करती तो शायद आज ये नहीं होता जो हो गया है।

पूर्व सैनिक की मौत पर जमकर हो रही है सियासत

इससे पहले गुरूवार को पूर्व सैनिक राम किशन ग्रेवाल का उनके पैतृक गांव बमला में सैकड़ों लोगों और नेताओं की मौजूदगी में अंतिम संस्कार कर दिया गया।

केजरीवाल ने परिजनों को एक करोड़ रुपये की सहायता राशि देने की घोषणा की

इस मौके पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और हरियाणा के सीएम खट्टर भी मौजूद थे। राहुल ने ग्रेवाल की विधवा और अन्य परिजनों से मुलाकात भी की। केजरीवाल ने परिजनों को एक करोड़ रुपये की सहायता राशि देने की घोषणा की है।

ग्रेवाल के मौत की वजह ये कर्ज भी हो सकता है?

ग्रेवाल की आत्महत्या राजनीतिक अखाड़े में आरोप-प्रत्यारोप का केंद्र बनी रही। केंद्रीय मंत्री और पूर्व सेना प्रमुख वी.के.सिंह ने पहले ग्रेवाल की दिमागी हालत पर सवाल उठाए और फिर कहा कि वह (ग्रेवाल) कांग्रेस के कार्यकर्ता थे। लेकिन अब लोन की बात सामने आने से मामले में नया मोड़ आ गया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Ex-serviceman Ram Kishan Grewal had Rs 3.5-lakh loan against his pension account said Indian Express news.
Please Wait while comments are loading...