पासपोर्ट नियमों में हुए दो बड़े बदलाव, जरूर पढ़ें ये काम की खबर

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा है कि अब पासपोर्ट सिर्फ अंग्रेजी में जारी नहीं होगा। सुषमा ने कहा कि पासपोर्ट अब हिन्दी और अंग्रेजी, दोनों भाषाओं में जारी किया जाएगा।

सुषमा ने दी जानकारी

सुषमा ने दी जानकारी

दिल्ली में एक प्रेस वार्ता के दौरान सुषमा ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि मंत्रालय ने फैसला किया है कि 8 वर्ष से कम और 60 वर्ष से ऊपर के उम्र वालों के लिए पासपोर्ट जारी करने की फीस में सामान्य से 10 फीसदी कम लगेगी।

50 साल हुए पूरे

50 साल हुए पूरे

बता दें कि आज शुक्रवार को मंत्रालय ने पासपोर्ट सेवा दिवस के दिन यह घोषणा की। आज की ही तारीख से देश में पासपोर्ट एक्ट 1967 लागू किया गया था। आज इस एक्ट को लागू हुए 50 साल पूरे हो गए।

अब ये होगा शुल्क

अब ये होगा शुल्क

बता दें कि साल 2014 की जुलाई में सरकार ने सामान्य श्रेणी के तहत पासपोर्ट और संबंधित सेवा शुल्क 1000 रुपये से 1500 रुपये तथा तत्काल योजना के तहत 2500 रुपये से बढ़ाकर 3500 रुपया कर दिया था।

स्टाम्प भी हुआ जारी

स्टाम्प भी हुआ जारी

वहीं सामान्य तौर पर अब 1500 रुपए की जगह 1350 रुपए ही लगेंगे। हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि ये 10 फीसदी की छूट तत्काल योजना में भी मिलेगी या नहीं। इस दौरान पासपोर्ट एक्ट के 50 साल पूरे होने पर केंद्रीय राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने स्टाम्प भी जारी किया।

हिंदी में भी कर सकते हैं पासपोर्ट के लिए आवेदन

 

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
EAM Sushma Swaraj announces 10% reduction in passport fee
Please Wait while comments are loading...