शिवपाल-मुलायम से खफा अखिलेश यादव ने सार्वजनिक की अपनी लिस्ट, 11 बजे विधायकों की बैठक

टिकट बंटवारे से नाराज अखिलेश यादव एक बड़े एक्शन के मूड में हैं। गुरुवार शाम तक अखिलेश यादव कोई बड़ा फैसला ले सकते हैं। सपा सरकार में ज्यादातर विधायक अखिलेश यादव के साथ हैं।

Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। यूपी विधानसभा चुनाव के लिए टिकटों के बंटवारे को लेकर सीएम अखिलेश यादव और सपा प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव के बीच एक बार फिर तलवारें मयान से बाहर निकल चुकी हैं। सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने जैसे ही अखिलेश समर्थकों के टिकट काटकर 325 उम्मीदवारों की सूची जारी की, वैसे ही अखिलेश ने भी शिवपाल समर्थकों पर अपना चाबुक चला दिया। सूत्रों के हवाले से खबर है कि अखिलेश यादव ने अपने उम्मीदवारों की उस सूची को सार्वजनिक कर दिया है, जिसे उन्होंने रविवार को मुलायम सिंह यादव को सौंपा था। अखिलेश और मुलायम सिंह यादव की सूची में 79 नामों का फर्क है। अखिलेश ने आज सुबह 11 बजे अपने मंत्रियों और विधायकों की बैठक बुलाई है।

akhilesh yadav

सपा परिवार में चल रहे कोहराम को लेकर सियासी गलियारों में अलग-अलग चर्चाएं हैं। कहा जा रहा है कि टिकट बंटवारे से नाराज अखिलेश यादव एक बड़े एक्शन के मूड में हैं। गुरुवार शाम तक अखिलेश यादव कोई बड़ा फैसला ले सकते हैं। सपा सरकार में ज्यादातर विधायक अखिलेश यादव के साथ हैं। इनके अलावा पार्टी के कई सांसद भी मुख्यमंत्री के पक्ष में हैं। सूत्रों का कहना है कि मुख्यमंत्री अखिलेश समानांतर प्रत्याशी भी उतार सकते हैं। सपा विधायकों का कहना है कि अगर पार्टी उनकी अनदेखी कर रही है तो अखिलेश को अपने प्रत्याशियों की घोषणा कर देनी चाहिए। अखिलेश खुद भी कह चुके हैं कि यूपी विधानसभा चुनाव में परीक्षा उनकी होनी है इसलिए टिकट बंटवारे में उनकी राय को गंभीरता से लिया जाए।
मुलायम सिंह यादव ने बुधवार को यूपी विधानसभा चुनाव के लिए 325 उम्मीदवारों की सूची जारी की थी। लिस्ट के मुताबिक मंत्री रामगोविंद चौधरी, अरविंद सिंह गोप और पवन पांडेय समेत अखिलेश समर्थक कुल 47 मौजूदा विधायकों के टिकट काट दिए गए। वहीं सपा सुप्रीमो ने अखिलेश मंत्रिमंडल से बर्खास्त मंत्रियों शिवपाल यादव, ओमप्रकाश सिंह, नारद राय, शादाब फातिमा, अंबिका चौधरी, राजकिशोर सिंह, राजा महेंद्र अरिदमन सिंह, शिवकुमार बेरिया, योगेश प्रताप सिंह और मनोज पारस को टिकट दे दिया। अखिलेश ने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए सुल्तानपुर से प्रत्याशी बनाए गए डॉ. संदीप शुक्ला को राजकीय निर्माण निगम के सलाहकार पद से और उनकी पत्नी को आवास विकास परिषद के उपाध्यक्ष पद से हटा दिया। ये भी पढ़ें- सपा के 325 उम्मीदवारों की पूरी सूची, मुलायम ने अखिलेश के करीबियों के टिकट काटे

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Dispute between Akhilesh Yadav and Shivpal Yadav over distribution of tickets in Samajwadi Party.
Please Wait while comments are loading...