पीएम मोदी के फैसले के बाद अयोध्या में रामलला हुए मालामाल

नोटबंदी के बाद रामलला के खजाने में हुई जबरदस्त बढ़ोत्तरी, पहले की तुलना में दोगुने का चढ़ावा आ रहा है दानपात्र में

Subscribe to Oneindia Hindi

अयोध्या। नोटबंदी का असर ना सिर्फ देश की आम जनता बल्कि तमाम धार्मिक स्थलों को भी इस फैसले के चलते काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। लेकिन अयोध्या की राम जन्मभूमि के लिए नोटबंदी का फैसला कुछ खास लेकर आया है।

temple

30 लाख कमीशन के बदले कैशियर एक्सचेंज कर रहा था 1 करोड़ के नोट, CCTV से हुआ खुलासा

अयोध्या में जिस जगह रामलला विराजमान हैं उस पूरे परिसर के खजाने में जबरदस्त बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है। नोटबंदी के इस फैसले के बाद दानपात्रों में पुराने नोटों की आमद तकरीबन दोगुना बढ़ गई है।

चोरों को भी पसंद नहीं आए 2000 के नोट, 45 लाख छोड़ गए

दोगुना बढ़ा चढ़ावा
5 नवंबर को दानपात्र में 2 लाख 74 हजार 435 रुपए का चढ़ावा आया जबकि 8 नवंबर को नोटबंदी के फैसले के बाद यह चढ़ावा बढ़कर 4 लाख, 14 हजार 670 रुपए हो गया।

चढ़ावे में आई बढ़ोत्तरी के बारे में रामलला के प्रधान अर्चक आचार्य सत्येंद्र दास ने बताया कि हर महीने की 5 व 20 तारीख को चढ़ावे की गिनती होती है। चढ़ावे में बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है।

महाराष्ट्र के मंदिरों की अलग अपील
आपको बता दें कि नोटबंदी के फैसले के बाद महाराष्ट्र के कई मंदिरों ने भक्तों से अपील की है कि वह पुरान नोट चढ़ावे से ले जाए और अप्रैल माह तक इसका इस्तेमाल बिना ब्याज के करे और बाद में नए नोट के रुप में इसे मंदिर को वापस करें।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Demonetisation doubles the donation of Ramlala in Ayodhya. Number of 500 and 1000 rupees note has risen to just double.
Please Wait while comments are loading...